Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Monday, April 15, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरचतराझारखंड

चतरा, जामताड़ा और धनबाद में JPSC परीक्षा केंद्र पर अभ्यर्थियों का हंगामा, परचा लीक का आरोप

JPSC Paper Leak News

झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) की परीक्षा में चतरा, जामताड़ा, और धनबाद में परचा लीक होने का आरोप लगाकर अभ्यर्थियों ने परीक्षा केंद्र पर जमकर हंगामा किया।

चतरा : झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) की परीक्षा में रविवार को चतरा के उपेंद्रनाथ वर्मा इंटर कॉलेज स्थित केंद्र पर पेपर लीक होने के आरोप में अभ्यर्थियों ने जमकर हंगामा किया। साथ ही प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी की। हंगामा कर रहे अभ्यर्थियों का आरोप था कि कुछ छात्रों को विश्वास में लेकर सील खोला गया है। यह भी आरोप है कि परीक्षा से पूर्व ही प्रिंसिपल चेंबर में प्रश्न पत्र खोला गया है।

परीक्षा केंद्र पर छात्रों के हंगामा की सूचना पर डीडीसी पवन कुमार मंडल, अपर समाहर्ता, पुलिस अधिकारी और दंडाधिकारी दलबल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने हंगामा कर रहे छात्र-छात्राओं को समझा-बुझाकर शांत कराने के प्रयास में थी। हालांकि, जिला प्रशासन ने प्रश्न पत्र लीक होने से इंकार किया है। साथ ही बताया कि नियम संगत दंडाधिकारी और छात्रों के मौजूदगी में प्रकिया के तहत पेपर का सील खोला गया है।

मौके कर सदर अनुमंडल पदाधिकारी सुरेंद्र उरांव, डीएसपी मुख्यालय रोहित कुमार रजवार, एसडीपीओ संदीप सुमन भी हंगामा कर रहे छात्र-छात्राओं को शांत कराने का प्रयास कर रहे हैं। अधिकारियों ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। लापरवाही मिली तो होगी निश्चित कार्रवाई होगी। प्रिंसिपल धनेश्वर राम ने कहा कि कंट्रोल रूम में परीक्षा अवधि में नियमानुसार प्रश्न पत्र खोला गया है। पूरी प्रक्रिया की वीडियो रिकॉर्डिंग करायी गयी है। हंगामा कर रहे छात्रों के आरोपों को उन्होंने निराधार बताया।

धनबाद : झारखंड संयुक्त असैनिक सेवा प्रारंभिक प्रतियोगिता परीक्षा-2023 (जेपीएससी) की परीक्षा में रविवार को धनबाद के दो परीक्षा केंद्रों पर अभ्यर्थियों ने जमकर बवाल मचाते हुए दूसरी पाली की परीक्षा का बहिष्कार कर दिया। अभ्यर्थियों ने जहां दिल्ली पब्लिक स्कूल में बने परीक्षा केंद्र पर कुछ विशेष छात्रों को मनमाने ढंग से परीक्षा में लाभ पहुंचाने का आरोप लगाया, वहीं राजकीय उच्च विद्यालय पुटकी में परीक्षा देने पहुंचे छात्रों ने प्रश्नपत्र लीक होने का आरोप लगा कर आधे घंटे तक हंगामा करते हुए परीक्षा से खुद को अलग रखा।

धनबाद स्थित डीपीएस में दो पाली में हुए जेपीएससी परीक्षा में हिस्सा लेने पहुंचे 536 अभ्यर्थियों में 502 ने दूसरी पाली में हुई परीक्षा का पूर्णतः बहिष्कार कर दिया। इस दौरान छात्रों ने परीक्षा केंद्र पर जमकर हंगामा किया। बवाल बढ़ता देख धनबाद डीएसपी, एडीएम और एसडीएम मौके पर पहुंचे और विद्यार्थियों को काफी समझाने का भी प्रयास किया लेकिन छात्र नहीं माने। हंगामा बढ़ता देख पुलिस ने कुछ छात्रों हिरासत में भी लेने का प्रयास किया लेकिन छात्रों के जोरदार विरोध के कारण पुलिस को पीछे हटना पड़ा और छात्रों को छोड़ना पड़ा।

छात्रों ने आरोप लगाया कि इस परीक्षा केंद्र पर कुछ छात्रों को परीक्षा में विशेष लाभ पहुंचाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जेपीएससी की दो पालियों में परीक्षा होनी थी। पहली पाली की परीक्षा की रिर्पोटिंग टाइम सुबह 9 बजे थी लेकिन छात्रों को 9:30 बजे इंट्री दी गई। केंद्र में इंट्री के पहले छात्रों का बायोमेट्रिक, आधार कार्ड और फोटो देख कर ही उन्हें इंट्री देने का प्रावधान है लेकिन बिना कुछ देखे ही छात्रों को इंट्री दे दी गयी। इसके साथ 10 बजे के बजाए 10:20 बजे प्रश्नपत्र दिया गया।

इसके बाद दूसरी पाली में होने वाली परीक्षा का रिपोर्टिंग समय एक बजे थी, उसकी जगह 1:40 बजे छात्रों को प्रवेश दिया गया। इसके बाद छात्रों ने हंगामा करते हुए कुछ विशेष छात्रों को लाभ पहुंचाने का आरोप लगाया और कुल 536 छात्रों में से 502 छात्रों ने दूसरी पाली की परीक्षा का बहिष्कार कर दिया।

धनबाद के राजकीय उच्च विद्यालय पुटकी में भी छात्रों ने प्रश्नपत्र लीक होने का आरोप लगाते हुए करीब आधे घंटे तक बवाल मचाया। छात्रों का कहना था कि परीक्षा केंद्र पहुंचने से पूर्व ही प्रश्नपत्र की सील तोड़ दी गयी थी। ऐसे में प्रश्नपत्र लीक होने की पूरी संभावना है। करीब आधे घंटे के हंगामे के बाद प्रशासन के हस्तक्षेप पर छात्र शांत हुए। इसके बाद परीक्षा शुरू हो सकी।

गौरतलब है कि धनबाद जिले के 65 परीक्षा केंद्रों में आज जेपीएससी-2023 की परीक्षा संचालित की गयी थी। दो केंद्रों को छोड़ बाकी के सभी 63 परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा शांतिपूर्ण तरीके से पूर्ण हुआ।

JPSC Paper Leak News