Breaking :
||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर 62.13 फीसदी वोटिंग, सबसे अधिक जमशेदपुर, सबसे कम रांची में मतदान||झारखंड में कल से दिखेगा चक्रवाती तूफान ‘रेमल’ का असर, लातेहार, गढ़वा, पलामू व चतरा जिले में भी असर||लातेहार: दुकान में चोरी करने आये तीन चोर आग में झुलसे, एक की मौत, दो गंभीर||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर वोटिंग कल, 82 लाख मतदाता करेंगे 93 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला||पलामू: तत्कालीन एसपी के फर्जी हस्ताक्षर से बने 12 चरित्र प्रमाण पत्र, बड़ा गिरोह सक्रिय||ED की टीम फिर पहुंची आलमगीर आलम के पीएस संजीव लाल के नौकर जहांगीर के घर||झारखंड: ज्वैलर्स शोरूम से दो लाख रुपये नकद समेत 50 लाख के आभूषण की लूट||निशिकांत दुबे के खिलाफ चुनाव आयोग से शिकायत||लातेहार: चुनाव कार्य में लापरवाही बरतने वाले 9 कर्मियों पर प्राथमिकी दर्ज||बंगाल की खाड़ी में बन रहे लो प्रेशर का झारखंड में असर, ऑरेंज अलर्ट जारी, झमाझम बारिश से लोगों को गर्मी से मिली राहत
Sunday, May 26, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरलातेहार

बेमौसम बारिश ने तोड़ दी किसानों की कमर, टमाटर की फसल पर गहरा असर

संजय राम/बारियातू

लातेहार में दो दिनों से तूफ़ान के साथ हो रही बारिश और बदली से किसानों को काफी नुकसान हो गया है। इस बेमौसम बारिश से सबसे ज्यादा सब्जी की खेती पर असर पड़ा है। किसानों के मुताबिक तूफ़ान के साथ हो रही बारिश और बदली के कारण टमाटर, फूल गोभी, बैंगन, मिर्च, धनिया आदि फसल कई जगह बर्बाद हो गई है।

बालूमाथ और बारियातू प्रखंड क्षेत्र में हजारों एकड़ में लगी टमाटर की फसल असर पड़ा है। बारियातू प्रखंड के नौ पंचायत के सभी गांव में बड़े पैमाने पर टमाटर की खेती होती है। जो छोटे-बड़े सभी किसानों के लिए आर्थिक आमदनी का बेहतर जरिया है।

मंगलवार की रात तेज आंधी तूफान के साथ लगातार दो घंटे तक हुई बारिश से इटके, अमरवाड़ीह, बेसरा,बेसरा, मकरा, मनातू, शिबला, राजगुरु, गोनिया, गड़गोमा, नावाडीह, छाताबर, चुम्बा बीरबीर, बालूभांग, फुलसू, डाढा, साल्वे, टोटी हेसला, गिद्दी मोड़, बरछिया, गड़गोमा, भाटचतरा, मनातू सहित 56 गांव में हजारों एकड़ में लगे टमाटर की फसल प्रभावित हुआ है। जिससे किसानों को भारी आर्थिक क्षति हुई है।

बता दें कि किसानों द्वारा टमाटर की रोपाई के कुछ दिन बाद ही काफ़ी हिस्सो में लगे पौधे मर गए थे। जो बचे थे उससे टमाटर निकलने लगे थे। जिससे किसानों को अच्छी आमदनी हो रही थी। अचानक आई तेज आंधी पानी से पूरे क्षेत्र में फले और पके टमाटर पर असर पड़ा है। ऐसे में बेमौसम बारिश होने के कारण किसानों की मेहनत पर पानी फिर गया है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *