Breaking :
||लातेहार: दो बाइकों की टक्कर में मामा-भांजा समेत चार घायल समेत बालूमाथ की दो खबरें||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस||झारखंड कैबिनेट की बैठक 19 जून को, लिये जायेंगे कई अहम फैसले||रजरप्पा को विश्वस्तरीय धार्मिक पर्यटन स्थल के रूप में किया जाये विकसित, कार्ययोजना करें तैयार : मुख्यमंत्री||झारखंड में IPS अधिकारियों का ट्रांसफर-पोस्टिंग||पलामू में प्रतिबंधित मांस का टुकड़ा फेंके जाने से तनाव, इलाका पुलिस छावनी में तब्दील||JBKSS प्रमुख जयराम महतो ने की विधानसभा चुनाव में 55 सीटों पर लड़ने की घोषणा||मुठभेड़ में पांच नक्सलियों को मार गिराने वाली टीम को DGP ने किया सम्मानित, कहा- मुख्य धारा में लौटें, अन्यथा मारे जायेंगे||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम
Wednesday, June 19, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू सेंट्रल जेल में बंद विचाराधीन कैदी की मौत, पत्नी की हत्या का था आरोपी

पलामू जेल में कैदी की मौत

पलामू : दहेज के लिए पत्नी की हत्या के आरोप में सात वर्ष से मेदिनीनगर सेंट्रल जेल में बंद विचाराधीन कैदी की इलाज के दौरान शुक्रवार को एमआरएमसीएच में मौत हो गयी।

मृतक विचाराधीन कैदी संजय शर्मा (44) पलामू जिले के हैदरनगर का रहने वाला था। संजय शर्मा 12 दिसंबर 2017 से सेंट्रल जेल में बंद था। गुरुवार की रात संजय शर्मा की तबीयत सेंट्रल जेल में खराब हो गयी और उसे इलाज के लिए मेदिनीराय राय मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान संजय शर्मा की मौत हो गयी।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

पलामू सेंट्रल जेल के अधीक्षक भागीरथी करजी ने बताया कि संजय शर्मा मानसिक रूप से कमजोर था और उसका इलाज भी मानसिक अस्पताल में चल रहा था। उन्होंने बताया कि संजय शर्मा की तबीयत खराब होने के बाद उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी मौत हो गयी। संजय शर्मा के शव का मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में पोस्टमार्टम किया गया। पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल टीम गठित की गयी।

उन्होंने बताया कि सेंट्रल जेल प्रबंधन ने परिजनों को मौत की सूचना दी। परिजन हैदरनगर से मेदिनीनगर पहुँच गये हैं। संजय शर्मा दहेज हत्या के आरोप में 2017 से सेंट्रल जेल में बंद था। कुछ दिन पहले भी संजय शर्मा की तबीयत खराब हुई थी। तब भी उन्हें मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इलाज के बाद वह वापस सेंट्रल जेल चला गया था। गौरतलब हो कि सेंट्रल जेल में एक हजार से अधिक विचाराधीन कैदी और सजायाफ्ता कैदी बंद हैं।

पलामू जेल में कैदी की मौत