Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Friday, June 21, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

JSSC-CGL पेपर लीक मामले में जांच के दौरान पलामू से हिरासत में लिये गये दो युवक

JSSC-CGL paper leak case

पलामू : झारखंड राज्य कर्मचारी चयन आयोग के प्रश्न पत्र लीक के मामले में स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (जेएसएससी) ने शनिवार पलामू के विभिन्न इलाकों में छापेमारी की है। इस छापेमारी में एसआईटी ने दो युवकों को हिरासत में लिया है। दोनों युवकों को एसआईटी की टीम अपने साथ रांची ले गयी है। दोनों युवकों के मोबाइल पर एसआईटी को जेएसएससी का प्रश्न पत्र मिला है। दोनों के मोबाइल पर किसी ने प्रश्न पत्र को भेजा था। एसआईटी प्रश्न पत्र भेजने वालों की तलाश कर रही है। एसआईटी की टीम पलामू के इलाके में 24 घंटे से कैम्प कर रही थी।

टीम ने मेदिनीनगर टाउन थाना क्षेत्र और हुसैनाबाद के इलाके में छापेमारी की है। इस छापेमारी में दो युवकों को एसआईटी ने हिरासत में लिया है। दोनों युवक से मेदिनीनगर टाउन थाना में कई घंटे तक पूछताछ हुई है। पूछताछ के बाद दोनों युवक को टीम साथ ले गयी है। दोनों युवक के मोबाइल को भी एसआईटी की टीम खंगाल रही है।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

एसआईटी की टीम पलामू के एक कोचिंग संचालक रवि किशोर की तलाश कर रही है। रवि के घर पर भी पुलिस अधिकारियों ने छापेमारी की है, लेकिन वह नहीं मिल पाया। कुछ वर्ष पहले पलामू में फोर्थ ग्रेड में भर्ती के दौरान रवि का नाम निकलकर सामने आया था। बाद में विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में पैसा लेकर नौकरी के देने के मामले में भी आरोप लगा था। पुलिस एवं एसआईटी को आशंका है कि रवि किशोर भी जेएसएससी सीजीएल पेपर लीक मामले में संलिप्त है।

JSSC-CGL paper leak case