Breaking :
||तैयारी में जुटे छात्र ध्यान दें: झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने एक दर्जन प्रतियोगी परीक्षाओं के विज्ञापन किये रद्द||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन||हेमंत ने जमशेदपुर वासियों को दी सौगात, जुगसलाई ओवरब्रिज का किया उद्घाटन||जमशेदपुर-कोलकाता विमान सेवा का शुभारंभ, मुख्यमंत्री ने कहा- सभी जिलों को हवाई सेवा से जोड़ने की तैयार की जा रही कार्ययोजना||पलामू में हल्का कर्मचारी रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||पाकुड़: मूर्ति विसर्जन के दौरान असामाजिक तत्वों ने जुलूस पर किया पथराव||हजारीबाग: पुआल में लगी आग, दो मासूम बच्चे जिंदा जले, पुलिस जांच में जुटी

रांची: डायन बिसाही के आरोप में तीन महिलाओं की हत्या, सनसनी

राजधानी रांची के सोनाहातू इलाके में डायन बिसाही के नाम पर एक वृद्ध महिला समेत तीन महिलाओं की हत्या का मामला सामने आया है। पुलिस ने दो के शव बरामद कर लिए हैं, जबकि एक वृद्ध अभी भी लापता है। पुलिस इसकी तलाश में लगी हुई है।

रांची जिले के सोनाहातू थाना क्षेत्र के अंतिम गांव राणाडीह में एक वृद्ध महिला समेत तीन महिलाओं पर डायन बिसाही का आरोप लगाते हुए निर्मम हत्या कर दी गई। बताया गया कि राणाडीह निवासी तमाड़ के एकलव्य विद्यालय के छात्र रामकल सिंह मुंडा के 18 वर्षीय पुत्र राजकिशोर सिंह मुंडा की सांप के काटने से मौत हो गयी।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस घटना पर ग्रामीणों द्वारा ओझा को गांव लाया गया था। ग्रामीणों को अंधविश्वास में रखकर ओझा ने गांव में डायन बिसाही की बात कही। साथ ही कहा कि जिस घर में डायन होती है, उसी घर में एक दिन के भीतर घटना होने की भी आशंका रहती है।

ओझा के मुताबिक अगले दिन उसी गांव के अभिमन्यु सिंह मुंडा के 19 वर्षीय बेटे ललित सिंह मुंडा को सांप ने काट लिया। जिसे इलाज के दौरान बचा लिया गया। इस घटना के बाद ओझा के अंधविश्वास को विश्वास मानकर उक्त गांव में ग्रामीणों की बैठक हुई और बैठक में अभिमन्यु सिंह मुंडा की पत्नी राईलू देवी (45 वर्ष) के साथ मारपीट कर डायन होने की बात कबूल करने को कहा गया। इस पर राईलू देवी ने गांव की दो बूढ़ी महिलाओं ढोली देवी और आलोमनी देवी का नाम लिया। इसके बाद तीनों महिलाओं को राणाडीह के पास पहाड़ पर ले जाकर उनकी हत्या कर दी गई।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

घटना के बाद सभी पुरुष राणाडीह गांव से फरार हो गए। फिलहाल गांव में सिर्फ महिलाएं ही हैं जो पुलिस को घटना के बारे में बताने से इनकार कर रही थीं। इधर, मृतका राईलू देवी के ससुराल के इशारे पर उसके पति अभिमन्यु सिंह मुंडा व मुचिराम सिंह मुंडा को पुलिस ने गिरफ्तार कर पूछताछ की तो पहाड़ से दो महिला राईलू देवी व ढोली देवी का शव बरामद किया गया। जबकि आलोमनी देवी का शव अभी तक नहीं मिला है।