Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Friday, April 19, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडदक्षिणी छोटानागपुर

गुमला: PLFI के तीन उग्रवादी हथियार के साथ गिरफ्तार

गुमला : रायडीह पुलिस ने प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन पीएलएफआई के तीन सक्रिय सदस्यों को हथियार सहित गिरफ्तार किया है। इसकी जानकारी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी विकास आनंद लागुरी ने रायडीह थाना परिसर में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान दी।

उन्होंने बताया कि शुक्रवार रात गुप्त सूचना मिली थी कि रायडीह थाना क्षेत्र के बाघलता और डुमरघाटी के बीच बरटोली जाने वाले रास्ते के जंगल के पास कुछ हथियारबंद लोग किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की योजना बना रहे हैं। इसकी सूचना वरीय पदाधिकारी को दी गयी। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर एक टीम की गठन किया गया। टीम बाघलता जंगल पहुंची। पुलिस को आते देख तीन व्यक्ति भागने लगे। टीम ने खदेड़ कर तीनों को पकड़ लिया।

गिरफ्तार उग्रवादियों में अनिल उरांव उर्फ कुठु (35) ग्राम मोकरा बरटोली थाना सुरसांग, मंजीत प्रधान उर्फ गुड्डू (19) ग्राम लोकी गोसाईकोना थाना रायडीह व गुड्डू सिंह (30) ग्राम बैरटोली थाना रायडीह जिला गुमला शामिल हैं। इनके पास से 315 बोर का 3 देशी रायफल, 315 बोर का 12 गोली व एके-47 की 3 गोली बरामद किया गया है।

पुलिस की पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि वे तीनों पीएलएफआई के सब-जोनल कमांडर राजेश गोप उर्फ टाइगर के दस्ते के सदस्य हैं। वे संगठन के लिए कार्य करते हैं। यह हथियार संगठन को मजबूत करने के लिए राजेश गोप ने उन्हें दिया था।

पुलिस टीम में इंस्पेक्टर बैजू उरांव, थाना प्रभारी अमित कुमार, एसआई अभिनव कुमार, नितेश टोपनो, बालमुकुंद सिंह, एएसआई रंजय कुमार सिंह व सैट 11 के सशस्त्र बल शामिल थे।