Breaking :
||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री||JPSC पीटी के मॉडल आंसर को चुनौती देने वाली याचिका हाईकोर्ट में खारिज, परीक्षा का रास्ता साफ||लातेहार: सेरेगड़ा पंचायत सेवक अर्जुन राम रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||झारखंड में चार DSP की ट्रांसफर-पोस्टिंग, समीर कुमार सवैया बने किस्को के DSP||झारखंड कैबिनेट का फैसला, सरकार करायेगी जातिगत गणना, विधायकों का वेतन भत्ता बढ़ा, रिटायर्ड कर्मचारियों को भी मिलेगी प्रमोशन||झारखंड को नशामुक्त राज्य बनाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध, हर किसी की सहभागिता जरूरी : मुख्यमंत्री||वन भूमि से कब्जा हटाने गयी टीम पर ग्रामीणों का हमला, पत्थरबाजी में वन क्षेत्र पदाधिकारी समेत एक दर्जन घायल||झारखंड में इस तारीख को मानसून की एंट्री, बारिश और वज्रपात का अलर्ट||लातेहार: दो बाइकों की टक्कर में मामा-भांजा समेत चार घायल समेत बालूमाथ की दो खबरें||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस
Friday, June 21, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडदक्षिणी छोटानागपुर

गुमला: PLFI के तीन उग्रवादी गिरफ्तार, हथियार व पर्चा समेत अन्य सामान बरामद

गुमला : बिशुनपुर थाना क्षेत्र के टेमरकरचा जंगल में निर्माण कार्य में लगे वाहन में आग लगाकर मजदूरों के मोबाइल लूटने के मामले में पुलिस ने प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन पीएलएफआई से जुड़े तीन उग्रवादियों को गिरफ्तार कर बड़ी सफलता हासिल की है।

गिरफ्तार उग्रवादियों में विवेक उरांव उर्फ पिंटू उरांव (25), सोमनाथ खेरवार (21) दोनों ग्राम केरार थाना पेसरार जिला लोहरदगा व बसंत महली (23) ग्राम जमटी थाना बिशुनपुर जिला गुमला शामिल हैं। पुलिस ने इनके पास से एक देसी कट्टा, मजदूरों से लूटी गई चार मोबाइल, पीएलएफआई का दो खाली पर्चा व एक मोटरसाइकिल बरामद किया है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

पुलिस उपाधीक्षक (अभियान) मनीष कुमार ने एसपी कार्यालय परिसर में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि पीएलएफआई उग्रवादियों ने लेवी वसूली और आतंक फैलाने के मकसद से 10 अप्रैल को बिशुनपुर थाना क्षेत्र के टेमरकरचा जंगल में निर्माण कार्य में लगे वाहन में आग में आग लगा दिया था। साथ ही कार्यरत मजदूरों से उनके मोबाइल फोन भी लूट लिए थे। उग्रवादियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर पुलिस उपाधीक्षक अभियान मनीष कुमार के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया।

टीम के सदस्यों ने मामले का उद्भेदन करते हुए तीन उग्रवादियों को गिरफ्तार कर लिया। घटना में शामिल एक उग्रवादी को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। अन्य उग्रवादियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है।

छापेमारी दल में पुलिस उपाधीक्षक अभियान मनीष कुमार, पुलिस अधीक्षक अभियान, लोहरदगा दीपक पाण्डेय, एसडीपीओ मनीष चंद्र लाल, पुलिस निरीक्षक मनोज कुमार, बिशुनपुर थाना प्रभारी कुंदन कुमार, गुरदरी थाना प्रभारी सदानंद सिंह, घाघरा थाना प्रभारी अमित कुमार चौधरी, अनिल मंडल और तीनों थाना के सशस्त्र बल शामिल थे।