Breaking :
||लातेहार: बारियातू में ऑटो चालक की गोली मारकर हत्या, विरोध में सड़क जाम||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर
Sunday, February 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडदक्षिणी छोटानागपुर

गुमला: PLFI के तीन उग्रवादी गिरफ्तार, हथियार व पर्चा समेत अन्य सामान बरामद

गुमला : बिशुनपुर थाना क्षेत्र के टेमरकरचा जंगल में निर्माण कार्य में लगे वाहन में आग लगाकर मजदूरों के मोबाइल लूटने के मामले में पुलिस ने प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन पीएलएफआई से जुड़े तीन उग्रवादियों को गिरफ्तार कर बड़ी सफलता हासिल की है।

गिरफ्तार उग्रवादियों में विवेक उरांव उर्फ पिंटू उरांव (25), सोमनाथ खेरवार (21) दोनों ग्राम केरार थाना पेसरार जिला लोहरदगा व बसंत महली (23) ग्राम जमटी थाना बिशुनपुर जिला गुमला शामिल हैं। पुलिस ने इनके पास से एक देसी कट्टा, मजदूरों से लूटी गई चार मोबाइल, पीएलएफआई का दो खाली पर्चा व एक मोटरसाइकिल बरामद किया है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

पुलिस उपाधीक्षक (अभियान) मनीष कुमार ने एसपी कार्यालय परिसर में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि पीएलएफआई उग्रवादियों ने लेवी वसूली और आतंक फैलाने के मकसद से 10 अप्रैल को बिशुनपुर थाना क्षेत्र के टेमरकरचा जंगल में निर्माण कार्य में लगे वाहन में आग में आग लगा दिया था। साथ ही कार्यरत मजदूरों से उनके मोबाइल फोन भी लूट लिए थे। उग्रवादियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर पुलिस उपाधीक्षक अभियान मनीष कुमार के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया।

टीम के सदस्यों ने मामले का उद्भेदन करते हुए तीन उग्रवादियों को गिरफ्तार कर लिया। घटना में शामिल एक उग्रवादी को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। अन्य उग्रवादियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है।

छापेमारी दल में पुलिस उपाधीक्षक अभियान मनीष कुमार, पुलिस अधीक्षक अभियान, लोहरदगा दीपक पाण्डेय, एसडीपीओ मनीष चंद्र लाल, पुलिस निरीक्षक मनोज कुमार, बिशुनपुर थाना प्रभारी कुंदन कुमार, गुरदरी थाना प्रभारी सदानंद सिंह, घाघरा थाना प्रभारी अमित कुमार चौधरी, अनिल मंडल और तीनों थाना के सशस्त्र बल शामिल थे।