Breaking :
||राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 28 फरवरी को आयेंगी रांची, सुरक्षा के रहेंगे कड़े इंतजाम||झारखंड: अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर युवती से किया दुष्कर्म, धर्म परिवर्तन कराकर जबरन करा दी शादी||लातेहार: बालूमाथ में लोडेड देशी पिस्टल के साथ दो युवक गिरफ्तार, कार जब्त||पीएम मोदी ने समुद्र में लगायी डुबकी, जलमग्न कृष्ण की नगरी द्वारका को देखा||लातेहार: बारियातू में ऑटो चालक की गोली मारकर हत्या, विरोध में सड़क जाम||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल
Monday, February 26, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडललातेहार

बिहार के तीन साइबर अपराधी लातेहार से गिरफ्तार, चला रहे थे ठगी की दूकान

Latehar cyber criminals arrested

लातेहार पुलिस ने तीन साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार अपराधियों में आनंद कुमार, छोटू कुमार और सुलीचंद कुमार शामिल हैं। तीनों बिहार के शेखपुरा जिले के बरबीघा गांव के रहने वाले हैं। पुलिस ने इनके पास से 29 मोबाइल फोन, 25 सिम कार्ड के अलावा साइबर क्राइम से जुड़े कई अहम दस्तावेज भी बरामद किये हैं। आवश्यक कार्रवाई के बाद तीनों को जेल भेज दिया गया।

इस संबंध में एसपी अंजनी अंजन ने सोमवार को बताया कि नेशनल साइबर क्राइम रिपोर्टिंग पोर्टल के प्रतिबिंब ऐप पर साइबर अपराध से संबंधित एक मामला दर्ज किया गया था। इस मामले में तेलंगाना के एक शख्स को साइबर अपराधियों ने चूना लगाया था। अपराधियों का लोकेशन लातेहार जिला मुख्यालय के चंदनडीह मोहल्ले में दिख रहा था।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

एसपी ने बताया कि सूचना मिलने के बाद एसडीपीओ संतोष कुमार मिश्रा के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया और अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की गयी। पुलिस ने चिन्हित मकान पर छापा मारा तो वहां तीन लोग पकड़े गये। उनके पास से करीब 29 मोबाइल फोन और 25 सिम कार्ड बरामद किये गये। पूछताछ के दौरान तीनों अपराधियों ने स्वीकार किया कि वे केरल लॉटरी के नाम पर लोगों से ठगी करते थे। वे केरल लॉटरी के नाम पर ओटीपी मांगते थे और फिर साइबर क्राइम के जरिये पैसे निकाल लेते थे।

एसपी ने बताया कि साइबर अपराधियों के इस गिरोह में कुछ अन्य लोग भी शामिल हैं। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस द्वारा छापेमारी की जा रही है।

इस छापेमारी में एसडीपीओ संतोष कुमार मिश्रा के अलावा पुअनि गौरव सिंह, राज रोशन सिन्हा, मो. शाहरुख, देवानंद कुमार, साइबर सेल के सुरेश सिंह, बीरेंद्र कुमार समेत सदर थाना के सशस्त्र बल शामिल थे।

Latehar cyber criminals arrested