Breaking :
||भीषण गर्मी की चपेट में झारखंड, सूरज उगल रहा आग, विशेषज्ञों ने बताये बचाव के उपाय||लातेहार: मनिका स्थित कल्याण गुरुकुल में युवती की संदिग्ध मौत, जांच में जुटी पुलिस||रांची के रातू रोड इलाके से गुजर रहे हैं तो हो जायें सावधान! बाइक सवार बदमाशों की है आप पर नजर||गढ़वा में सैकड़ों चमगादड़ों की दर्दनाक मौत, भीषण गर्मी से मौत की आशंका||लातेहार: अमझरिया घाटी की खाई में गिरा ट्रक, चालक और खलासी की मौत||मैक्लुस्कीगंज में ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम में लगे कंटेनर में नक्सलियों ने लगायी आग, जिंदा जला मजदूर||फल खरीदने गया पति, प्रेमी के साथ भाग गयी पत्नी||पलामू में 47.5 डिग्री पहुंचा पारा, मई महीने का रिकॉर्ड टूटा, दशक का सर्वाधिक अधिकतम तापमान||DJ सैंडी मर्डर केस : हत्या और मारपीट का मामला दर्ज, बार संचालक व बाउंसर समेत 14 गिरफ्तार||झारखंड की चर्चा खूबसूरत पहाड़ों की वजह से नहीं बल्कि नोटों के पहाड़ की वजह से हो रही : मोदी
Thursday, May 30, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड में 6 अक्टूबर तक होगी भारी बारिश, कुछ जिलों के लिए येलो तो कुछ के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी

Jharkhand Weather Update Today

रांची : झारखंड में फिलहाल मॉनसून सक्रिय है। शनिवार शाम से हो रही बारिश से मौसम सुहावना हो गया है। तापमान गिर गया है। आज सुबह से ही बारिश हो रही है। आसमान में काले बादल छाये हुए हैं।

रांची स्थित मौसम विभाग के वैज्ञानिक डॉ अभिषेक आनंद ने कहा है कि राज्य में 6 अक्टूबर तक भारी बारिश होगी। कुछ जिलों के लिए येलो अलर्ट और कुछ के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। गुमला, खूंटी, सिमडेगा, पश्चिमी सिंहभूम में भारी बारिश के आसार हैं। यहां गरज और बिजली गिरने की भी आशंका है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

पिछले 24 घंटे से रांची, रामगढ़, साहिबगंज, धनबाद, बोकारो, सरायकेला-खरसावां, पूर्वी सिंहभूम, पश्चिमी सिंहभूम में बारिश हो रही है। गुमला, खूंटी, सिमडेगा, पश्चिमी सिंहभूम जिले में भारी बारिश का अनुमान है। इन जगहों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

गढ़वा और पलामू में गरज के साथ बारिश हो सकती है। इस दौरान आकाशीय बिजली गिरने की भी आशंका है। चतरा, हज़ारीबाग और लातेहार जिले में भी गरज के साथ बारिश की संभावना है। देवघर और कोडरमा में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है।

विभाग का कहना है कि अगले दो दिनों में तापमान में तीन से चार डिग्री सेल्सियस की गिरावट हो सकती है। 2 अक्टूबर को भारी बारिश की संभावना है। 3 अक्टूबर से 6 अक्टूबर तक हल्की से मध्यम बारिश होगी। अलर्ट अवधि के दौरान किसानों को खेतों में जाने से बचना चाहिए।

मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि अगर बादल गरजने लगें और बारिश होने लगे तो सुरक्षित स्थान पर शरण लें. वज्रपात के दौरान किसी भी स्थिति में पेड़ के नीचे शरण न लें। अगर आप बिजली के खंभे के पास हैं तो उससे दूर रहें. बारिश और गरज के दौरान किसानों को अपने खेतों में जाने से बचना चाहिए।

Jharkhand Weather Update Today