Breaking :
||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत||लातेहार: बारियातू में पेड़ से लटका मिला महिला का शव, जांच में जुटी पुलिस||गुमला में TSPC के चार उग्रवादी गिरफ्तार, हथियार और जिंदा कारतूस समेत अन्य सामान बरामद||चतरा: नक्सलियों की बड़ी साजिश नाकाम, दो सिलेंडर बम बरामद||मनी लॉन्ड्रिंग मामले में निलंबित मुख्य अभियंता वीरेंद्र राम की जमानत याचिका खारिज, पत्नी व पिता को भी नहीं मिली राहत||नहाय खाय के साथ सूर्योपासना का चार दिवसीय चैती छठ महापर्व शुरू||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में अनुपस्थित 56 मतदान कर्मियों को मिला आखिरी मौका, उपस्थित नहीं हुए तो होगी कार्रवाई
Sunday, April 14, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड: मैट्रिक और इंटर की परीक्षा तारीख में होगा बदलाव, शिक्षा मंत्री ने दिये संकेत

रांची : राज्य के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने गुरुवार को कहा कि सरहुल पर्व को देखते हुए 24 मार्च जैक मैट्रिक-इंटर की परीक्षा की तिथि आगे बढ़ायी जायेगी। इसके लिए कहीं भी विरोध करने की जरूरत नहीं है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

ज्ञात हो कि झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं 14 मार्च से शुरू होने जा रही हैं। 24 मार्च को सरहुल पर्व है. जैक बोर्ड ने इस दिन भी परीक्षा तिथि घोषित की है। इसे लेकर कई नेताओं और आदिवासी समुदाय के लोगों में विरोध और गुस्सा देखा जा रहा था। इसके बाद शिक्षा मंत्री ने कहा है कि हर संभव तिथि बढ़ायी जायेगी। कैलेंडर में गलती की वजह से यह तारीख तय की गयी थी। इसमें सुधार किया जायेगा। उन्होंने इस मामले को लेकर किसी भी तरह का विरोध नहीं करने की अपील की है। पर्व है, सबका पर्व है। परीक्षा की तारीख आगे बढ़ायी जायेगी।

इससे पहले आदिवासी सरना समिति के जगलाल पाहन ने कहा था कि सरहुल आदिवासी समाज का सबसे बड़ा पर्व है. इस दिन सरकार को परीक्षा की तिथि घोषित नहीं करनी चाहिए। इस दिन परीक्षा होने से बच्चों पर काफी दबाव रहेगा। वह अपना त्योहार ठीक से नहीं मना पायेंगे।

केंद्रीय सरना कमेटी के अध्यक्ष बबलू मुंडा ने भी परीक्षा तिथि को लेकर कहा था कि आदिवासियों का इतना बड़ा पर्व और इस दिन बच्चे पर दबाव बनाना ठीक नहीं है। सरकार को 24 मार्च की परीक्षा तिथि में बदलाव करना चाहिए।

गौरतलब है कि झारखंड में मैट्रिक-इंटर की परीक्षा 14 मार्च से शुरू हो रही है। झारखंड में 24 मार्च को गणित की परीक्षा निर्धारित है। इसे लेकर बीजेपी समेत कई आदिवासी संगठनों ने तारीख बदलने की मांग की थी।

झारखंड मैट्रिक इंटर परीक्षा 2023