Breaking :
||भाजपा की मोटरसाइकिल रैली पर पथराव, कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट, कई घायल||झारखंड की तीन लोकसभा सीटों पर चुनाव प्रचार थमा, 20 मई को वोटिंग||पिता के हत्यारे बेटे की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त बंदूक बरामद समेत पलामू की तीन ख़बरें||चतरा लोकसभा क्षेत्र के नक्सल प्रभावित इलाके में नौ बूथों का स्थान बदला, जानिये||झारखंड हाई कोर्ट में 20 मई से ग्रीष्मकालीन अवकाश||पलामू: हार्डकोर इनामी माओवादी नीतेश के दस्ते का सक्रिय सदस्य गिरफ्तार||लातेहार: 65 हेली ड्रॉपिंग बूथ के लिए शुभकामनायें लेकर मतदान कर्मी रवाना||KIDZEE लातेहार के बच्चों ने मतदाताओं से की अपील- पहले मतदान, फिर कोई काम||पलामू में शौच के लिए निकली नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म, चार आरोपी गिरफ्तार||लातेहार अनुमंडल क्षेत्र में चुनाव के मद्देनजर चार जून तक धारा 144 लागू
Sunday, May 19, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

प्रधानमंत्री की सुरक्षा में हुई चूक की उच्च स्तरीय जांच कराये राज्य सरकार : बाबूलाल मरांडी

रांची : देश भाजपा अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने रांची में बीते बुधवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सुरक्षा में हुई चूक की जांच की मांग की है। बाबूलाल मरांडी ने गुरुवार को सोशल मीडिया के माध्यम से कहा कि प्रधानमंत्री की गाड़ी के ठीक सामने किसी व्यक्ति का आ जाना सुरक्षा की भारी चूक है। हमारा देश पहले भी कई बड़े हादसे देख चुका है। ऐसे भी यह चूक नजरंदाज के योग्य बिलकुल भी नहीं है।

अमर बाउरी ने प्रधानमंत्री के काफिले के सामने एक महिला के आने की घटना पर रोष जाहिर किया है। इस पर सवाल खड़ा करते हुए उन्होंने इसे हादसा, संयोग या प्रयोग कहा है। साथ ही कहा कि राज्य सरकार ने इस बेहद गंभीर मामले पर “महिला मानसिक रूप से स्वस्थ नहीं थी” कहकर लीपा-पोती कर दी। बाउरी ने कहा कि राज्य सरकार महज खानापूर्ति ना कर उच्च स्तरीय कमेटी से मामले की जांच करवाए। साथ ही केंद्रीय जांच एजेंसी एनआइए भी इस मामले की जांच करे।

गौरतलब है कि रांची में 15 नवंबर को प्रधानमंत्री के कारकेड में एक महिला घुस गयी थी। इसके चलते कुछ समय के लिए काफिले को रोकना पड़ गया था। स्थानीय पुलिस ने उसे मानसिक रूप से अस्वस्थ मानते छोड़ दिया था।

Ranchi Prime Minister’s convoy