Breaking :
||तैयारी में जुटे छात्र ध्यान दें: झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने एक दर्जन प्रतियोगी परीक्षाओं के विज्ञापन किये रद्द||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन||हेमंत ने जमशेदपुर वासियों को दी सौगात, जुगसलाई ओवरब्रिज का किया उद्घाटन||जमशेदपुर-कोलकाता विमान सेवा का शुभारंभ, मुख्यमंत्री ने कहा- सभी जिलों को हवाई सेवा से जोड़ने की तैयार की जा रही कार्ययोजना||पलामू में हल्का कर्मचारी रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||पाकुड़: मूर्ति विसर्जन के दौरान असामाजिक तत्वों ने जुलूस पर किया पथराव||हजारीबाग: पुआल में लगी आग, दो मासूम बच्चे जिंदा जले, पुलिस जांच में जुटी

पुजारी को एक बच्चे की मां से हुआ इश्क, सरेआम भर दी मांग

पलामू : जिले के पांकी प्रखंड क्षेत्र से प्रेम प्रसंग का एक रोचक मामला सामने आया है। एक पुजारी को एक बच्चे की मां से प्रेम हो गया। वह उसके प्रेम में इस कदर दीवाना हो गया कि उसने सरेआम प्रेमिका की मांग में सिन्दूर भर दिया।

जानकारी के मुताबिक विवाहिता पांकी पोस्ट ऑफिस के पास ब्यूटी पार्लर चलाती है। वह एक बच्चे की मां है। उसका नाम अंजलि देवी है। उम्र करीब 35 साल है। कुछ दिनों पहले, अंजलि को दीपक वैद्य से प्यार हो गया, जो उसकी पूजा करता था। दोनों के बीच प्रेम प्रसंग कई दिनों से चल रहा था। दोनों ने कई बार एक दूसरे के होने का संकल्प लिया था। लेकिन पब्लिक एटीट्यूड के चलते दोनों एक दूसरे के साथ रहने में झिझक महसूस कर रहे थे।

पलामू की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इसी बीच दीपक वैद्य ने रविवार को अचानक अंजलि देवी की मांग में सिंदूर भर दिया। इसके बाद अंजलि ने तुरंत शादी करने की बात कही। अंजलि देवी पुजारी को फौरन शादी करने के लिए धक्का देकर स्टेट बैंक के बगल वाले हनुमान मंदिर में ले गई। यहां मंदिर बंद होने के कारण अंजलि अपने पुजारी प्रेमी के साथ राहेवीर पहाड़ी मंदिर जाने लगी।

इस बीच पनकी थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई। इस दौरान लोगों की भीड़ भी जमा हो गई। पुलिस ने किसी तरह भीड़ को नियंत्रित किया। इसके बाद दोनों को थाने ले जाया गया। दोनों परिवारों और पंचायत प्रतिनिधियों की पहल पर देर रात लोहरसी स्थित मंदिर में उनका विवाह संपन्न हुआ। बता दें कि महिला के पति की मौत कोरोना की दूसरी लहर के दौरान हो गयी थी। उसका सात साल का एक बेटा भी है।