Breaking :
||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री||JPSC पीटी के मॉडल आंसर को चुनौती देने वाली याचिका हाईकोर्ट में खारिज, परीक्षा का रास्ता साफ||लातेहार: सेरेगड़ा पंचायत सेवक अर्जुन राम रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||झारखंड में चार DSP की ट्रांसफर-पोस्टिंग, समीर कुमार सवैया बने किस्को के DSP||झारखंड कैबिनेट का फैसला, सरकार करायेगी जातिगत गणना, विधायकों का वेतन भत्ता बढ़ा, रिटायर्ड कर्मचारियों को भी मिलेगी प्रमोशन||झारखंड को नशामुक्त राज्य बनाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध, हर किसी की सहभागिता जरूरी : मुख्यमंत्री||वन भूमि से कब्जा हटाने गयी टीम पर ग्रामीणों का हमला, पत्थरबाजी में वन क्षेत्र पदाधिकारी समेत एक दर्जन घायल||झारखंड में इस तारीख को मानसून की एंट्री, बारिश और वज्रपात का अलर्ट||लातेहार: दो बाइकों की टक्कर में मामा-भांजा समेत चार घायल समेत बालूमाथ की दो खबरें||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस
Friday, June 21, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

विजिबिलिटी कम होने के कारण उड़ान नहीं भर सकी फ्लाइट, सर्किट हाउस लौट रहे सभी विधायक

Jharkhand Political Crisis Today

रांची : झामुमो और कांग्रेस विधायक आज शाम बस से सर्किट हाउस से एयरपोर्ट के लिए निकले थे। सभी लोग एयरपोर्ट पहुंच चुके थे। फ्लाइट में चढ़ने के बाद एयर होस्टेस सभी को सीट बेल्ट बांधने की सलाह दे रही थी। लेकिन इसी बीच सूचना आयी कि फ्लाइट उड़ान नहीं भर सकती। क्योंकि इस वक्त रांची का मौसम काफी खराब है। घना कोहरा छाया हुआ है। ऐसे में फ्लाइट का उड़ान भरना संभव नहीं है। इसलिए जो भी विधायक आज हैदराबाद जा रहे थे वे अब वापस लौटकर दोबारा सर्किट हाउस आ रहे हैं।

हैदराबाद जाने के लिए रांची एयरपोर्ट पर दो चार्टर विमान थे। बताया जा रहा था कि सभी को हैदराबाद की रामो जी फिल्म सिटी में ठहराया जायेगा। 43 विधायकों में से 38 विधायक एक साथ जा रहे थे। 5 विधायक रांची में रुके थे।

हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी के बाद आज पूरे दिन झारखंड में राजनीतिक उथल-पुथल मची रही। चंपई सोरेन को कल ही विधायक दल का नेता चुना गया था। आज चंपई ने राज्यपाल से भी मुलाकात क।. सरकार बनेगी या राष्ट्रपति शासन लगेगा, इस पर संशय है। राज्यपाल ने कल सब कुछ साफ करने की बात कही है। इसलिए सरकार गठन पर अभी भी सस्पेंस बरकरार है।

यहां सवाल उठ रहा है कि क्या झारखंड में कोई बड़ा सियासी खेल हो सकता है। विधायकों के दूसरे खेमे में जाने की आशंका या डर को देखते हुए पहले झामुमो और कांग्रेस विधायकों को सर्किट हाउस में ठहराया गया। इसके बाद हैदराबाद जाने की बात हुई। जेएमएम और कांग्रेस विधायकों को फ्लाइट से हैदराबाद ले जाया जा रहा था। हैदराबाद तेलंगाना राज्य में आता है और वहां कांग्रेस की सरकार है। इसलिए उन्हें वहां भेजा जा रहा था क्योंकि वहां किसी भी तरह की गड़बड़ी की आशंका नहीं थी।

Jharkhand Political Crisis Today