Breaking :
||लातेहार: दो बाइकों की टक्कर में मामा-भांजा समेत चार घायल समेत बालूमाथ की दो खबरें||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस||झारखंड कैबिनेट की बैठक 19 जून को, लिये जायेंगे कई अहम फैसले||रजरप्पा को विश्वस्तरीय धार्मिक पर्यटन स्थल के रूप में किया जाये विकसित, कार्ययोजना करें तैयार : मुख्यमंत्री||झारखंड में IPS अधिकारियों का ट्रांसफर-पोस्टिंग||पलामू में प्रतिबंधित मांस का टुकड़ा फेंके जाने से तनाव, इलाका पुलिस छावनी में तब्दील||JBKSS प्रमुख जयराम महतो ने की विधानसभा चुनाव में 55 सीटों पर लड़ने की घोषणा||मुठभेड़ में पांच नक्सलियों को मार गिराने वाली टीम को DGP ने किया सम्मानित, कहा- मुख्य धारा में लौटें, अन्यथा मारे जायेंगे||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम
Wednesday, June 19, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडललातेहारहेरहंज

लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम

लातेहार : हेरहंज थाना क्षेत्र के नवादा के अंबवाटोली गांव निवासी स्वर्गीय सुधीर उरांव के 10 वर्षीय पुत्र प्रेम कुमार का शव 24 घंटे बाद भी नहीं मिल पाया है। शव को खोजने के लिए चौपारण से गोताखोरों की टीम (एनडीआरएफ की टीम) बुलायी गयी है, जो ट्यूब के सहारे लगातार खोजबीन कर रही है। लेकिन शव नहीं मिल पाया है।

Herhanj Latehar Latest News

लातेहार विधायक बैजनाथ राम, एसडीपीओ आशुतोष कुमार सत्यम, प्रखंड विकास पदाधिकारी सह अंचलाधिकारी प्रदीप कुमार दास, थाना प्रभारी विक्रम कुमार, उप प्रमुख विजय उरांव, मुखिया प्रीति कुजूर समेत बड़ी संख्या में ग्रामीण सुबह से ही गोताखोरों के साथ घटना स्थल पर मौजूद थे।

Herhanj Latehar Latest News

आपको बता दें कि शुक्रवार को अंबवाटोली से सटे पुरानी फायरक्ले माइंस खदान के तालाबनुमा गड्ढे के गहरे पानी में नहाने के दौरान प्रेम कुमार की डूबने से मौत हो गयी थी। लेकिन शव को गहरे पानी से बाहर नहीं निकाला जा सका था। शुक्रवार को भी कई ग्रामीणों ने ट्यूब के सहारे खोजबीन की लेकिन सफलता नहीं मिल सकी।

गोताखोर टीम के मो आलम, गुड्डू मस्तान ने विधायक बैजनाथ राम और एसडीपीओ आशुतोष कुमार सत्यम को बताया कि हम लोगों ने कई बार चतरा डीसी व एसपी के अलावे कई नेताओं और मंत्रियों से भी आवेदन देकर ऑक्सीजन की मांग की है। लेकिन आज तक ऑक्सीजन नहीं मिल सका है। जिसके कारण हम लोग कई बार असफल साबित होते हैं। हम लोग बिना ऑक्सीजन के अधिकतम 15 फीट की गहरायी तक अंदर जा सकते हैं। जबकि इस तालाबनुमा गड्ढे की गहरायी 30 फीट से अधिक है। फिर भी प्रयास जारी है।

एनडीआरएफ की टीम शनिवार की दोपहर करीब ढाई बजे घटना स्थल अंबवाटोली एक नंबर पुरानी खदान पहुंची। जहां ऑक्सीजन के सहारे काफी खोजबीन की गयी लेकिन शाम छह बजे के बाद तक कोई सुराग नहीं मिल सका है।

Herhanj Latehar Latest News