Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, मायके वालों ने लगाया हत्या का आरोप||लातेहार: मनिका में सड़क निर्माण स्थल पर उग्रवादियों का हमला, JCB मशीन में लगायी आग||वेतन नहीं मिलने से नहीं हुआ बेहतर इलाज, गढ़वा में DRDA कर्मी की मौत||लातेहार: हेरहंज में पेड़ से गिरकर युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल||लातेहार: सड़क दुर्घटना में घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान

AJPTA: 19 नवंबर को शिक्षक करेंगे मुख्यमंत्री आवास का घेराव, मांगे पूरी नहीं होने पर 17 दिसंबर से अनिश्चितकालीन अनशन

पक्षपात एवं उपेक्षाओं के कारण शिक्षक संघ ने की आंदोलन की घोषणा

रांची : अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ के राज्य कार्यकारिणी की ऑनलाइन बैठक बुधवार को प्रदेश अध्यक्ष बृजेंद्र चौबे की अध्यक्षता में संपन्न हुई। प्रदेश कार्यसमिति के आह्वान पर दो चरण के काला बिल्ला एवं मंत्री, सांसद, विधायक, जनप्रतिनिधि को ज्ञापन देने के आंदोलन का संघ ने समीक्षा किया और अभूतपूर्व सफलता हेतु प्रदेश के शिक्षको को बधाई दी।

साथ ही आगामी 19 नवंबर को सीएम आवास घेराव की तैयारियों की प्रखंडवार जिलावार और प्रमंडलवार प्रदेश के शिक्षक राजधानी रांची आयेंगे संख्या के साथ एक एक बिंदु पर गहन विचार विमर्श किया गया। आने वाले शिक्षक रेल मार्ग टिकट बुक करा लिए और सड़क मार्ग से आने वाले बस सहित छोटी बड़ी गाड़ी भी बुक करा लिया गया। सभी तैयारी चर्म पर है। इस बार का सीएम आवास घेराव ऐतिहासिक होगा क्योंकि प्रदेश के शिक्षकों आंदोलन को लेकर काफी उत्साह है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

राज्य के सभी जिलों से बैठक में शिक्षक प्रतिनिधियों ने सरकार और शिक्षा विभाग के अधिकारियों की हिटलरशाही रवैया, शोषण, पक्षपातपूर्ण रवैए पर बेहद आक्रोश व्यक्त किया।

संघ के प्रदेश अध्यक्ष बृजेंद्र चौबे, महासचिव राम मूर्ति ठाकुर, व मुख्य प्रवक्ता नसीम अहमद ने कहा कि विगत दिनों शिक्षकों की चार सूत्री मांगों का ज्ञापन राज्य के सभी जिलों से मुख्यमंत्री को समर्पित किया था, लेकिन सरकार स्तर से अबतक यथोचित पहल नहीं होने के कारण शिक्षक आंदोलन की राह पर उतरने को बेबस हैं।

वक्ताओं ने कहा कि राज्य के सभी कर्मियों को सुनिश्चित वृति उन्नयन योजना MACP का लाभ दिया जाता है। लेकिन शिक्षकों को इससे वंचित रखा गया है, जबकि पड़ोसी बिहार राज्य ने अपने शिक्षकों को इसकी स्वीकृति प्रदान कर दी गयी है।

इसके साथ ही छठे वेतनमान में वेतन निर्धारण की विसंगति को सचिवालय कर्मियों के लिए दूर कर दिया गया है। लेकिन शिक्षकों को अब तक छठे वेतनमान की विसंगति का दंश झेलना पड़ रहा है।

अपने गृह जिले से सुदूर जिलों में पदस्थापित लगभग 7 हजार शिक्षकों को उनके गृह जिले में पदस्थापित होने का अवसर अब तक प्रदान नहीं किया गया है, जबकि 2020 में शिक्षा मंत्री द्वारा शिक्षको को अंतर जिला स्थानांतरण के माध्यम दिया जिसे अब तक पूरा नहीं किया गया।

शिक्षक अपनी अस्मिता की रक्षा हेतु मजबूर है क्योंकि अत्याधिक लिपिकीय एवं गैर शैक्षणिक कार्यों से मुक्त कर पठन पाठन व्यवस्था को दुरुस्त करने का मांग बैठक में छाया रहा।

सरकार के इन पक्षपात पूर्ण रवैए से आक्रोशित होकर सड़क पर उतरने को बेबस है अपनी चार सूत्री मांगों अपनी अस्मिता की रक्षा हेतु प्रदेश के सभी प्राथमिक व मध्य विद्यालय के, 19 नवंबर को हजारों की संख्या में शिक्षक मुख्यमंत्री आवास के समक्ष करेंगे धरना सह प्रदर्शन, सरकार द्वारा फिर भी बातें नहीं सुने जाने की स्थिति में 17 दिसंबर से अनिश्चितकालीन अनशनहोगा।

बैठक में विजेंद्र चौबे, राममूर्ति ठाकुर, मुख्य प्रवक्ता नसीम अहमद, संतोष कुमार, असदुल्लाह, बाल्मीकि कुमार, हरे कृष्ण चौधरी, प्रभात कुमार, राकेश कुमार, अजय कुमार, अजय ज्ञानी, कृष्णा शर्मा, हरीश कुमार, अशोक कुमार, विभूति कुमार, रामचंद्र खेरवार, संजय कुमार, रमेश प्रसाद, संजय कंडुलना, शंभू कुमार, सुधीर दुबे, प्रवीण कुमार, अजय कुमार, उपेंद्र कुमार, सरोज कुमार, सुरेंद्र कुमार आदि लोग उपस्थित थे।

ये हैं मुख्य मांगे

शिक्षकों MACP के लिए सुनिश्चित वृति उन्नयन योजना लागू की जाए,

शिक्षकों के छठे वेतनमान की विसंगतियों का निराकरण सचिवालय कर्मियों की भांति किया जाए

अंतर जिला स्थानांतरण नियमावली में आवश्यक संशोधन कर इसे सरल बनाया जाए

शिक्षकों को लिपिकीय और गैर शैक्षणिक कार्यों से मुक्त किया जाए

सीएम आवास घेराव को लेकर चलाया जनसंपर्क अभियान

इधर संघ के प्रदेश अध्यक्ष विजेंद्र चौबे व मुख्य प्रवक्ता नसीम अहमद ने संयुक्त रूप से बुधवार को राजधानी रांची के नामकुम, अनगड़ा, सिल्ली, सोनाहाटू, राहे, बुंडू प्रखंड के विभिन्न विद्यालयों में और प्रखंड मुख्यालय में 19 तारीख के सीएम आवास घेराव को लेकर व्यापक जनसंपर्क अभियान चलाया।

इसके समर्थन के लिए अधिक से अधिक संख्या में मोराबादी मैदान में शिक्षकों को आने का आह्वान किया गया। सभी जगह शिक्षक उत्साहित थे और इस बार के घेराव में आंदोलन को लेकर काफी उत्साहित हैं। सरकार और अधिकारियों की हिटलरशाही रवैए से परेशान हैं।

जनसंपर्क अभियान में प्रदेश अध्यक्ष विजेंद्र चौबे, मुख्य प्रवक्ता नसीम अहमद, हरेकृष्ण चौधरी, अजय ज्ञानी, कलेश्वरी कोइरी, अगस्त भगत, सुधीर सिंह, अनंत मदन स्वासी, रामनरेश खटीक, आसाराम महतो, पुराण प्रकाश मिश्रा, इंद्रजीत बैठा, कृष्णा कुमार, वीरेंद्र कुमार, भरत सिंह, अनिल महतो, दिलीप महतो, मकसूद जफराबादी जफर, दिलीप कुमार, रीना महतो, बद्री विशाल, देशराज मिश्रा आदि लोग शामिल थे।