Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Sunday, April 14, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर

रांची : निलंबित आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल ने अपनी जमानत अवधि पूरी होने के बाद शनिवार को ईडी के विशेष न्यायाधीश प्रभात कुमार शर्मा की अदालत में सरेंडर कर दिया। इसके बाद कोर्ट ने पूजा सिंघल को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

चार जनवरी को सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिलने के बाद पूजा सिंघल आठ माह बाद जेल से बाहर आयी थीं। बेटी की इलाज के लिए उन्हें एक माह के लिए सुप्रीम कोर्ट से सशर्त जमानत प्रदान की गयी थी। इस दौरान उन्हें झारखंड से बाहर रहने का निर्देश दिया गया था। गुरुवार को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी कोर्ट में हाजिर हुई थीं। कोर्ट ने इनके आरोप गठन के बिंदु पर सुनवाई के लिए आठ फरवरी की तिथि निर्धारित की है।

ईडी ने पूजा सिंघल और अन्य के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की थी। चार्जशीट में बताया गया है कि चतरा, खूंटी और पलामू की डीसी रहते हुए पूजा सिंघल के खाते में वेतन से 1.43 करोड़ अधिक थे। ईडी ने इन तीन जिलों में डीसी के रूप में उनके कार्यकाल के दौरान विभिन्न बैंक खातों और अन्य निवेशों के बारे में जानकारी एकत्र की। 11 मई 2022 को ईडी ने पूजा सिंघल को गिरफ्तार किया था।

निलंबित IAS पूजा सिंघल