Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में सड़क हादसे में एक बाइक सवार की मौत, दो अन्य घायल||अपहृत डॉक्टर सकुशल बरामद, डालटनगंज में किराये का मकान लेकर छिपा रखे थे अपहरणकर्ता, तीन गिरफ्तार||रांची में पचास हजार का इनामी माओवादी हथियार के साथ गिरफ्तार||गुमला में तेज रफ़्तार का कहर, सड़क हादसे में दो छात्रों की दर्दनाक मौत||रांची: TSPC के इनामी उग्रवादी ने पुलिस के सामने किया सरेंडर||विजय संकल्प महारैली में बोले पीएम मोदी, मोदी की गारंटी पर देश कर रहा भरोसा, अबकी बार 400 पार||पलामू: बेटी की शादी के लिए बैंक से निकाले पैसे, रुपयों से भरा बैग छीनकर लुटेरे हुए फरार||सिंदरी खाद कारखाना चालू कराने का लिया था संकल्प, मोदी की गारंटी हुई पूरी : नरेन्द्र मोदी||कैबिनेट की बैठक में 40 प्रस्तावों को मिली मंजूरी, राज्य कर्मियों की पेंशन योजना में संशोधन, अब पांच हजार रुपये मिलेगा पोशाक भत्ता||पलामू: नाबालिग से दुष्कर्म के दोषी को 20 साल सश्रम कारावास की सजा
Saturday, March 2, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

लोहरदगा से गिरफ्तार संदिग्ध आतंकी को न्यायिक हिरासत में भेजा गया रांची, इस्लामिक जिहाद के लिए युवाओं को कर रहा था तैयार

रांची : झारखंड के लोहरदगा से गिरफ्तार किए गए इस्लामिक स्टेट इराक एंड सीरिया (आईएसआईएस) के आतंकी फैयाज अंसारी को गुरुवार को एनआईए रांची की स्पेशल कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। उसे गुरुवार को लोहरदगा के न्यू रोड एरिया से इंटेलिजेंस ब्यूरो, नेशनल इंटेलिजेंस एजेंसी और दिल्ली पुलिस की टीम ने संयुक्त रूप से छापेमारी कर गिरफ्तार किया।

जानकारी के मुताबिक एनआईए ने फैयाज अंसारी के पास से कई डिजिटल एविडेंस जब्त किए हैं। इससे उसके आईएसआईएस से संपर्क होने के पुख्ता जानकारी मिली है। वह डार्क नेट के माध्यम से आईएसआईएस आतंकियों के संपर्क में था। लोहरदगा में वह पिछले दो महीनों से रह रहा था और अपने घर से ही इस्लामिक जिहाद को लेकर सक्रिय था। एनआईए की टीम उस पर पिछले एक सप्ताह से नजर रखे हुए थी। फैयाज अंसारी मूल रूप से बिहार का रहने वाला है। वर्तमान में वह लोहरदगा के मिल्लत कॉलोनी में रहता है। उसके पिता फिरोज अंसारी बीएसएनएल में कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारी हैं।

केंद्रीय जांच एजेंसियों ने फैजान अंसारी के आईएसआईएस के स्लीपर सेल होने की पुख्ता जानकारी मिलने पर उसे गिरफ्तार किया। एनआईए ने उसके लैपटॉप की तलाशी ली तो उसमें से कई आपत्तिजनक डाक्यूमेंट्स बरामद किए गए। जांच में पता चला कि वह लगातार देश और विदेश के आईएसआईएस एजेंट से संपर्क साधे हुए था। उसके इशारे पर वह लगातार काम कर रहा था। खुफिया एजेंसी को उसके पास से कई भड़काऊ वीडियो, पेन ड्राइव सहित कई आपत्तिजनक सामान मिले हैं।

जानकारी के मुताबिक खुफिया एजेंसी की एक टीम लोहरदगा में ही इसके दूसरे साथियों की तलाश कर रही है। लोहरदगा में कई युवाओं को भड़का कर आईएसआईएस के साथ काम करने के लिए इसने कई युवाओं को राजी भी कर लिया था। फैयाज दो साल पहले लोहरदगा से अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी पढ़ाई करने गया था। यहीं वह आईएसआईएस के संपर्क में आया। इसके बाद लोहरदगा लौटने के बाद आतंकी गतिविधियों में लग गया था।

Lohardaga terrorist arrested news