Breaking :
||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर||युवक ने थाने की हाजत में लगायी फां*सी, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप
Sunday, February 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार: उग्रवादी संगठन झारखंड क्रांति मोर्चा का सुप्रीमो पत्नी समेत गिरफ्तार, हथियार और कारतूस बरामद

लातेहार : नक्सलियों के खिलाफ चलाये जा रहे सर्च अभियान के दौरान सीआरपीएफ 214 बटालियन को बड़ी सफलता मिली है। सीआरपीएफ ने सदर थाना क्षेत्र के लेधपा गांव से उग्रवादी संगठन झारखंड क्रान्ति मोर्चा के सुप्रीमो शंकर राम को उसकी पत्नी कविता भुइयां के साथ गिरफ्तार किया है।

इसके पास से सीआरपीएफ ने एक 315 राइफल मैगजीन के साथ, तीन देशी पिस्तौल, पांच 315 जिंदा कारतूस, एक 315 खाली कारतूस, एक बारूद का पाउच समेत भारी मात्रा में अन्य सामग्री बरामद किया है।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

यह नक्सल विरोधी अभियान सीआरपीएफ 214 बटालियन के कमांडेंट केडी जोशी के निर्देश पर चलाया जा रहा था। जिसका नेतृत्व सीआरपीएफ 214 बटालियन के सहायक कमांडेंट प्रहलाद रजक कर रहे थे। इस अभियान में सीआरपीएफ सी/214 बटालियन कुमंडीह कंपनी के साथ जिला पुलिस एवं क्यूएटी-214 बटालियन की टीम शामिल थी।

इस अभियान का सफल नेतृत्व सीआरपीएफ 214 बटालियन के कमांडेंट केडी जोशी ने किया। जबकि इस अभियान में सीआरपीएफ 214 बटालियन के द्वितीय कमान अधिकारी अभिनव आनन्द, सहायक कमांडेंट प्रहलाद रजक शामिल रहे।

214 बटालियन ने सफलतापूर्वक अभियान चलाकर नक्सलियों के नापाक मंसूबों को विफल कर दिया है। इससे ग्रामीणों में सीआरपीएफ के प्रति विश्वास और मजबूत हुआ है।