Breaking :
||हजारीबाग: पुआल में लगी आग, दो मासूम बच्चे जिंदा जले, पुलिस जांच में जुटी||चाईबासा: PLFI के तीन उग्रवादी गिरफ्तार, AK-47 समेत अन्य हथियार बरामद||लातेहार में PLFI के दो उग्रवादी हथियार के साथ गिरफ्तार, ठेकेदारों को फोन पर देते थे धमकी||पलामू: JJMP के सब जोनल कमांडर ने किया सरेंडर, खोले कई चौंकाने वाले राज||लातेहार: अनियंत्रित बोलेरो ने खड़े ट्रक में मारी टक्कर, दो युवकों की मौत, चार की हालत नाजुक||हेमंत सरकार का निर्णय, सरकारी कार्यक्रमों में ‘जोहार’ शब्द से अभिवादन करना अनिवार्य||सरकार खतियान आधारित स्थानीयता बिल फिर राज्यपाल को भेजेगी : JMM||राज्य स्तरीय झांकी में पलामू किला को मिला पहला स्थान, राज्यपाल ने किया पुरस्कृत||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प

शिक्षक नियुक्ति मामले में सुप्रीम कोर्ट ने कहा- जिन लोगों की नियुक्ति हुई है, वे सुरक्षित हैं

रांची : शिक्षकों की नियुक्ति को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान शीर्ष अदालत ने सरकार को शेष रिक्त पदों को तीन महीने के भीतर भरने का निर्देश दिया। रिक्ति मेरिट सूची के आधार पर पूरा करें।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

साथ ही कोर्ट ने यह भी कहा कि नियुक्त किये गये सभी उम्मीदवार सुरक्षित हैं। सरकार की ओर से अधिवक्ता प्रज्ञा सिंह बघेल ने पक्ष रखा। मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट के जज जस्टिस एमआर शाह की कोर्ट में हुई।