Breaking :
||लातेहार में बड़ा रेल हादसा, चार यात्रियों की मौत और कई के घायल होने की सूचना||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज||पलामू: संदिग्ध हालत में स्कूल में फंदे से लटका मिला प्रधानाध्यापक का शव, हत्या की आशंका||लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम||मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने आलमगीर आलम से लिए सभी विभाग वापस||पलामू: कोयला से भरा ट्रक और बीड़ी पत्ता लदा ऑटो जब्त, पांच गिरफ्तार, दो लातेहार के निवासी
Friday, June 14, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

सदन में हंगामा कर रहे भाजपा विधायकों को स्पीकर ने लगायी फटकार

रांची : झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के छठे दिन शनिवार को नियोजन नीति को लेकर भोजनावकाश के बाद भी विपक्ष का हंगामा जारी रहा। विपक्ष के विधायक वेल में आकर नारेबाजी करने लगे। इस दौरान विपक्षी विधायक सदन में रिपोर्टर मेज को थपथपा कर नारेबाजी करते नजर आए। विपक्षी विधायकों के इस आचरण पर स्पीकर रबींद्रनाथ महतो काफी नाराज हो गए। उन्होंने बार- बार विधायकों से मेज नहीं थपथपाने की अपील की लेकिन विपक्ष के विधायक उनकी अपील को नजरअंदाज करते रहे।

विधायक मुख्यमंत्री इस्तीफा दो, वादा तोड़ने वाली सरकार हाय-हाय, युवा विरोधी सरकार होश में आओ के नारे लगा रहे हैं। विधायकों के हंगामे से स्पीकर नाराज हो गये और विधायकों को फटकार लगायी। इस बीच कांग्रेस विधायक इरफान अंसारी और उमा शंकर अकेले वेल में आकर बीजेपी विधायकों का विरोध किया। इस हंगामे के बीच विधायक मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन हाय हाय के नारे लगा रहे हैं।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

विपक्ष के आचरण से नाराज स्पीकर ने कड़ी टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि आपलोग रिपोर्टिंग टेबल से हटकर हंगामा करें नहीं तो बहुत कुछ हो सकता है। विपक्ष के हंगामे के बीच बजट पर चर्चा जारी है। भाजपा के विधायक चर्चा में भाग नहीं ले रहे हैं।

सदन में सो रहे थे मंत्री बादल पत्रलेख और विधायक दीपक बिरूवा

इधर विपक्ष नियोजन नीति पर विपक्ष सदन में जोरदार हंगामा कर रहा था और दूसरी तरफ सत्ता पक्ष के मंत्री बादल पत्रलेख और विधायक दीपक बिरूवा सदन में सो रहे थे। भाजपा विधायक ने उनका मजाक उड़ाया। विधानसभा के संतरी ने जाकर मंत्री बादल पत्रलेख को जगाया तो विधायक मथुरा महतो ने विधायक दीपक बिरुआ को जगाया। भाजपा विधायक ने कहा कि देखो सरकार सो रही है। इस बीच भाजपा विधायक फर्श पर बैठ गये ओर नारेबाजी करने लगे। भाजपा विधायक नियोजन और स्थानीय नीति की मांग कर रहे हैं। विधायक प्रदीप यादव ने बीजेपी विधयकों को सदन से बाहर निकालने की मांग की। भाजपा विधयकों के हंगामे के बीच सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिये स्थगित कर दी गयी।

झारखंड विधानसभा बजट सत्र