Breaking :
||दुमका में फिर पेट्रोल कांड, प्रेमिका और उसकी मां पर पेट्रोल डाल कर प्रेमी ने लगायी आग||छत्तीसगढ़ में पुलिस के साथ मुठभेड़ में चार नक्सली ढेर, शव बरामद||UP राज्यसभा चुनाव में BJP के आठों उम्मीदवारों ने की जीत हासिल||माओवादी टॉप कमांडर रविंद्र गंझू के दस्ते का सक्रिय सदस्य ढेचुआ गिरफ्तार||पलामू: तूफान और बारिश ने मचायी तबाही, दो छात्रों की मौत, कहीं गिरे पेड़ तो कहीं ब्लैकआउट||झारखंड के 4 IAS अधिकारियों का तबादला, JPSC के सचिव का भी हुआ ट्रांसफर||झारखंड में 23 IPS अफसरों का तबादला, अंजनी अंजन बने रांची के ग्रामीण एसपी||पलामू: ग्रामीण डॉक्टर का अपहरण, मरीज को दिखाने के बहाने क्लिनिक में आये थे अपराधी||Jharkhand Budget: बाबूलाल मरांडी ने कहा- बजट में जन कल्याणकारी योजनाओं का समावेश नहीं||विधानसभा में 1.28 लाख करोड़ का बजट पेश, 2 लाख तक के कृषि ऋण होंगे माफ़, जानिये सरकार की अन्य घोषणायें
Wednesday, February 28, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

सदन में हंगामा कर रहे भाजपा विधायकों को स्पीकर ने लगायी फटकार

रांची : झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के छठे दिन शनिवार को नियोजन नीति को लेकर भोजनावकाश के बाद भी विपक्ष का हंगामा जारी रहा। विपक्ष के विधायक वेल में आकर नारेबाजी करने लगे। इस दौरान विपक्षी विधायक सदन में रिपोर्टर मेज को थपथपा कर नारेबाजी करते नजर आए। विपक्षी विधायकों के इस आचरण पर स्पीकर रबींद्रनाथ महतो काफी नाराज हो गए। उन्होंने बार- बार विधायकों से मेज नहीं थपथपाने की अपील की लेकिन विपक्ष के विधायक उनकी अपील को नजरअंदाज करते रहे।

विधायक मुख्यमंत्री इस्तीफा दो, वादा तोड़ने वाली सरकार हाय-हाय, युवा विरोधी सरकार होश में आओ के नारे लगा रहे हैं। विधायकों के हंगामे से स्पीकर नाराज हो गये और विधायकों को फटकार लगायी। इस बीच कांग्रेस विधायक इरफान अंसारी और उमा शंकर अकेले वेल में आकर बीजेपी विधायकों का विरोध किया। इस हंगामे के बीच विधायक मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन हाय हाय के नारे लगा रहे हैं।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

विपक्ष के आचरण से नाराज स्पीकर ने कड़ी टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि आपलोग रिपोर्टिंग टेबल से हटकर हंगामा करें नहीं तो बहुत कुछ हो सकता है। विपक्ष के हंगामे के बीच बजट पर चर्चा जारी है। भाजपा के विधायक चर्चा में भाग नहीं ले रहे हैं।

सदन में सो रहे थे मंत्री बादल पत्रलेख और विधायक दीपक बिरूवा

इधर विपक्ष नियोजन नीति पर विपक्ष सदन में जोरदार हंगामा कर रहा था और दूसरी तरफ सत्ता पक्ष के मंत्री बादल पत्रलेख और विधायक दीपक बिरूवा सदन में सो रहे थे। भाजपा विधायक ने उनका मजाक उड़ाया। विधानसभा के संतरी ने जाकर मंत्री बादल पत्रलेख को जगाया तो विधायक मथुरा महतो ने विधायक दीपक बिरुआ को जगाया। भाजपा विधायक ने कहा कि देखो सरकार सो रही है। इस बीच भाजपा विधायक फर्श पर बैठ गये ओर नारेबाजी करने लगे। भाजपा विधायक नियोजन और स्थानीय नीति की मांग कर रहे हैं। विधायक प्रदीप यादव ने बीजेपी विधयकों को सदन से बाहर निकालने की मांग की। भाजपा विधयकों के हंगामे के बीच सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिये स्थगित कर दी गयी।

झारखंड विधानसभा बजट सत्र