Breaking :
||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर वोटिंग कल, 82 लाख मतदाता करेंगे 93 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला||पलामू: तत्कालीन एसपी के फर्जी हस्ताक्षर से बने 12 चरित्र प्रमाण पत्र, बड़ा गिरोह सक्रिय||ED की टीम फिर पहुंची आलमगीर आलम के पीएस संजीव लाल के नौकर जहांगीर के घर||झारखंड: ज्वैलर्स शोरूम से दो लाख रुपये नकद समेत 50 लाख के आभूषण की लूट||निशिकांत दुबे के खिलाफ चुनाव आयोग से शिकायत||लातेहार: चुनाव कार्य में लापरवाही बरतने वाले 9 कर्मियों पर प्राथमिकी दर्ज||बंगाल की खाड़ी में बन रहे लो प्रेशर का झारखंड में असर, ऑरेंज अलर्ट जारी, झमाझम बारिश से लोगों को गर्मी से मिली राहत||जेठानी ने देवरानी पर लगाये गंभीर आरोप, कहा- कल्पना सोरेन के इशारे पर मेरी दोनों बेटियों को मारने की थी कोशिश||गढ़वा: JJMP जोनल कमांडर के नाम पर पूर्व विधायक सत्येंद्र नाथ तिवारी को धमकी||छत्तीसगढ़ में पुलिस के साथ मुठभेड़ में फिर मारे गये सात नक्सली
Saturday, May 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

कुछ षड्यंत्रकारी पनडुब्‍बी से बाहर निकलने का काम कर रहे, हम खत्म करने की कर रहे तैयारी : हेमंत सोरेन

रांची : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि झारखंड में आज कई षड्यंत्रकारी लोग पनडुब्‍बी से बाहर निकलने वाले हैं. हम उन्हें खत्म करने की तैयारी कर रहे हैं. बस आप लोगों का साथ मिलता रहेगा, तो हम इन सभी को पूरी तरह से खत्म कर देंगे. उन्हें पता है कि हेमंत सोरेन 5 साल का कार्यकाल पूरा कर लेते हैं, तो वह सभी को राज्य से बाहर धकेल देंगे.

भाजपा के पूर्व विधायक जयप्रकाश वर्मा सहित कई राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं ने आज मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की उपस्थिति में झामुमो का दामन थामा के बाद मुख्यमंत्री हेमंत ने कही। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब समय आ गया है कि झारखंड के अनुसूचित जाति, जनजाति, दलित, अल्पसंख्यक सभी लोगों को एकजुट होना होगा. भाजपा का नाम लिए बिना हेमंत सोरेन ने कहा क‍ि जिन लोगों ने 20 साल सत्ता का सुख भोगा, उसने राज्य निर्माण के बाद झारखंड को और पीछे ढकेल दिया. 20 साल का कार्यकाल काफी दर्दनाक रहा है. हमारी सरकार किसान युवा, दलित के लिए काम कर रही है.

रांची के मोरहाबादी मैदान में जेएमएम नेताओं और कार्यकर्ताओं का जुटना शुरू

मालूम हो कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को कल ईडी कार्यालय में उपस्थित होना है. इसको लेकर झारखंड मुक्ति मोर्चा शक्ति प्रदर्शन करना चाहती है. इसको लेकर रांची के मोरहाबादी मैदान में जेएमएम नेताओं और कार्यकर्ताओं का जुटना शुरू हो गया है. मगर शहर में जो पोस्टर लगाए गए हैं, उसमें झामुमो कार्यकर्ताओं के रांची पहुंचने का कारण कुछ और बताया गया है. पोस्टर में लिखा गया है क‍ि 1932 का खतियान आधारित स्थानीय नीति, ओबीसी आरक्षण बढ़ाए जाने का प्रस्ताव विधानसभा से पास होने के उपलक्ष्य में मुख्यमंत्री का आभार प्रकट करने के लिए यह महाजुटान हो रहा है.

मोरहाबादी मैदान में झारखंड के विभिन्न जिलों से झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेताओं और कार्यकर्ताओं का आने का सिलसिला शुरू हो गया है. करीब दो हजार की संख्या में कार्यकर्ता शिबू सोरेन के आवास के बाहर जमा हो चुके हैं. इसके अलावा देर शाम से कल सुबह तक भारी संख्या में पूरे राज्य से कार्यकर्ताओं के रांची पहुंचने की संभावना है.

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें