Breaking :
||हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने राजनीति से लिया संन्यास, भाजपा अध्यक्ष को लिखा पत्र, जानिये वजह||दुमका में स्पेनिश महिला पर्यटक से गैंग रेप, तीन आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: बारियातू में बाइक पर अवैध कोयला ले जा रहे नौ लोग गिरफ्तार, जेल||लातेहार: अपराध की योजना बनाते दो युवक हथियार के साथ गिरफ्तार||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक||लोकसभा चुनाव: भाजपा ने की झारखंड से 11 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, चतरा समेत इन तीन सीटों पर सस्पेंस बरकरार||लोससभा चुनाव: भाजपा की 195 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, देखें पूरी लिस्ट||सदन की कार्यवाही शुरू होते ही सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायकों का हंगामा||झारखंड विधानसभा: बजट सत्र के अंतिम दिन कई विधेयक पारित||धनबाद: अस्पताल में लगी आग, मची अफरा-तफरी, मरीज और परिजन जान बचाकर भागे
Sunday, March 3, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात बीमारी से सात पशुओं की मौत, दो अन्य बीमार, मुआवजे की मांग

लातेहार : बालूमाथ प्रखंड मुख्यालय से सटे बारियातू प्रखंड क्षेत्र स्थित चेटुआग गांव में सात पशुओं की मौत अज्ञात अज्ञात बीमारी से हो गयी। जबकि दो अन्य बीमार हैं, जिनकी स्थिति गंभीर बतायी जा रही है।

घटना के संबंध में ग्रामीणों ने बताया की रोजाना की तरह पशु चारा के लिए गांव के समीप जंगल गये थे। इसी दौरान सात पशुओं की मौत अज्ञात बिमारी से हो गयी। चेटुआग ग्राम के पशुपालक मोहर गंझू के पांच जबकि मिठू गंझू व बिशुन गंझू के एक-एक पशु शामिल हैं। वहीं अमरेश गंझू व बिशुन गंझू के एक-एक पशु अभी भी बीमार हैं।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस घटना की जानकारी स्थानीय ग्रामीणों द्वारा बारियातू प्रखंड के बीस सूत्री अध्यक्ष राजेंद्र गंझू को दी गयी। घटना की सूचना मिलते ही बीस सूत्री अध्यक्ष घटनास्थल पहुंचकर पशुपालकों से मामले की जानकारी लेते हुए पशु चिकित्सक एवं स्थानीय प्रशासन को घटना की जानकारी दी। इसके बाद बालूमाथ एवं बरियातू प्रखंड के पशु चिकित्सक घटनास्थल पहुंचकर बिमार पशुओं का उपचार किया। जबकि मृत सभी सात पशुओं का बारियातू अंचल अधिकारी व पुलिस प्रशासन की मौजूदगी में शनिवार की शाम पोस्मॉर्टम किया गया। पोस्मॉर्टम के दौरान लिए गये कुछ सेम्पल जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा गया है। ताकि पशुओं की मौत के कारणों का पता चल सके।

घटना के बाद पशुपालकों ने स्थानीय प्रशासन से हुए आर्थिक नुकसान की भरपाई के लिए मुआवजे की गुहार लगायी है। बालूमाथ चिकित्सालय के पशु चिकित्सा प्रभारी डॉ सुशीला ने बताया कि फिलहाल पशुओं की मौत का कारण स्पष्ट नहीं है। जांच रिपोर्ट आने के बाद मौत के कारण स्पष्ट हो जायेगा।

Balumath Latehar Latest News