Breaking :
||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम||सतबरवा प्रखंड के रैयतों ने सांसद से की मुलाकात, उचित मुआवजा दिलाने की मांग||पलामू में तीन अलग-अलग सड़क हादसों में तीन की मौत, नेतरहाट घूमने जा रहा एक पर्यटक भी शामिल||केंद्रीय मंत्री शिवराज व असम के मुख्यमंत्री हिमंता झारखंड विधान सभा चुनाव में भाजपा का करेंगे बेड़ापार||झारखंड में पांच नक्सली ढेर, एक महिला नक्सली समेत दो गिरफ्तार, हथियार बरामद||अब स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग स्कूली बच्चों को नशीले पदार्थो के सेवन से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में करेगा जागरूक||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर
Tuesday, June 18, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात बीमारी से सात पशुओं की मौत, दो अन्य बीमार, मुआवजे की मांग

लातेहार : बालूमाथ प्रखंड मुख्यालय से सटे बारियातू प्रखंड क्षेत्र स्थित चेटुआग गांव में सात पशुओं की मौत अज्ञात अज्ञात बीमारी से हो गयी। जबकि दो अन्य बीमार हैं, जिनकी स्थिति गंभीर बतायी जा रही है।

घटना के संबंध में ग्रामीणों ने बताया की रोजाना की तरह पशु चारा के लिए गांव के समीप जंगल गये थे। इसी दौरान सात पशुओं की मौत अज्ञात बिमारी से हो गयी। चेटुआग ग्राम के पशुपालक मोहर गंझू के पांच जबकि मिठू गंझू व बिशुन गंझू के एक-एक पशु शामिल हैं। वहीं अमरेश गंझू व बिशुन गंझू के एक-एक पशु अभी भी बीमार हैं।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस घटना की जानकारी स्थानीय ग्रामीणों द्वारा बारियातू प्रखंड के बीस सूत्री अध्यक्ष राजेंद्र गंझू को दी गयी। घटना की सूचना मिलते ही बीस सूत्री अध्यक्ष घटनास्थल पहुंचकर पशुपालकों से मामले की जानकारी लेते हुए पशु चिकित्सक एवं स्थानीय प्रशासन को घटना की जानकारी दी। इसके बाद बालूमाथ एवं बरियातू प्रखंड के पशु चिकित्सक घटनास्थल पहुंचकर बिमार पशुओं का उपचार किया। जबकि मृत सभी सात पशुओं का बारियातू अंचल अधिकारी व पुलिस प्रशासन की मौजूदगी में शनिवार की शाम पोस्मॉर्टम किया गया। पोस्मॉर्टम के दौरान लिए गये कुछ सेम्पल जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा गया है। ताकि पशुओं की मौत के कारणों का पता चल सके।

घटना के बाद पशुपालकों ने स्थानीय प्रशासन से हुए आर्थिक नुकसान की भरपाई के लिए मुआवजे की गुहार लगायी है। बालूमाथ चिकित्सालय के पशु चिकित्सा प्रभारी डॉ सुशीला ने बताया कि फिलहाल पशुओं की मौत का कारण स्पष्ट नहीं है। जांच रिपोर्ट आने के बाद मौत के कारण स्पष्ट हो जायेगा।

Balumath Latehar Latest News