Breaking :
||लातेहार: बूढ़ा पहाड़ इलाके में नक्सलियों द्वारा छिपाये गये अत्याधुनिक हथियार व अन्य सामान बरामद||रांची हिंसा मामले में डीसी ने 11 आरोपियों पर मुकदमा चलाने की मांगी अनुमति||धनबाद आशीर्वाद टावर फायर मामले में हाई कोर्ट ने लिया स्वत: संज्ञान, सरकार से पूछा- अबतक क्या की गयी कार्रवाई||चाईबासा: IED ब्लास्ट में एक बार फिर तीन जवान घायल, एयरलिफ्ट कर लाया गया रांची||लातेहार: बालूमाथ में सड़क हादसे में घायल युवक की इलाज के दौरान मौत, 17 फरवरी को होनी थी शादी||तैयारी में जुटे छात्र ध्यान दें: झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने एक दर्जन प्रतियोगी परीक्षाओं के विज्ञापन किये रद्द||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन

अंकिता हत्याकांड का दूसरा आरोपी गिरफ्तार, जलाने में शाहरुख का दिया था साथ

रांची : दुमका की बेटी अंकिता कुमारी की पेट्रोल छिड़क कर हत्या करने के मामले में पुलिस ने सोमवार को दूसरे आरोपी नईम उर्फ ​​छोटू खान को गिरफ्तार कर लिया। दुमका के एसपी अंबर लकड़ा ने इस बात की पुष्टि की है। इससे पहले पुलिस मुख्य आरोपी शाहरुख को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। इस हादसे के बाद से इलाके में पुलिस प्रशासन की चौकसी बढ़ गई है।

आपको बता दें कि आरोपी शाहरुख ने दुमका के जरूवाडीह निवासी अंकिता कुमार सिंह को पेट्रोल छिड़क कर जलाने की कोशिश की। गंभीर रूप से झुलसी अंकिता ने रविवार सुबह रांची के रिम्स में इलाज के दरान दम तोड़ दिया। उसके निधन की खबर मिलते ही लोगों में आक्रोश फैल गया। गुस्साए लोगों ने दुमका बाजार को बंद कर दिया था, जबकि दुधानी में टावर चौक को जाम कर दिया गया था। इधर, जिला प्रशासन ने क्षेत्र में शांति बनाए रखने के उद्देश्य से धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी है।

राज्य सरकार ने की 10 लाख की सहायता राशि की घोषणा

इस मामले को सीएम हेमंत सोरेन ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने मृतक अंकिता के परिजनों को 10 लाख रुपये की सहायता देने की घोषणा की। साथ ही इस घटना के फास्ट ट्रैक से मामले को अंजाम देने के निर्देश दिए हैं। वहीं डीजीपी को निर्देश दिया गया है कि मामले की एडीजी रैंक के अधिकारी से जांच कराकर जल्द रिपोर्ट दें।

अंकिता के परिजनों को सौंपा गया चेक

राज्य सरकार के आदेश पर दुमका के डीसी रविशंकर शुक्ला ने अंकिता के पिता संजीव सिंह को सहायता के रूप में 9 लाख रुपये का चेक दिया। अंकिता के इलाज के लिए जिला प्रशासन ने संजीव को पहले ही एक लाख रुपये का चेक मुहैया कराया था। इस तरह अंकिता के परिवार वालों को सहायता के तौर पर कुल 10 लाख रुपये दिए गए हैं। डीसी ने अंकिता के पिता संजीव सिंह के घर पहुंचकर मदद की।