Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Friday, June 21, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

अंकिता हत्याकांड का दूसरा आरोपी गिरफ्तार, जलाने में शाहरुख का दिया था साथ

रांची : दुमका की बेटी अंकिता कुमारी की पेट्रोल छिड़क कर हत्या करने के मामले में पुलिस ने सोमवार को दूसरे आरोपी नईम उर्फ ​​छोटू खान को गिरफ्तार कर लिया। दुमका के एसपी अंबर लकड़ा ने इस बात की पुष्टि की है। इससे पहले पुलिस मुख्य आरोपी शाहरुख को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। इस हादसे के बाद से इलाके में पुलिस प्रशासन की चौकसी बढ़ गई है।

आपको बता दें कि आरोपी शाहरुख ने दुमका के जरूवाडीह निवासी अंकिता कुमार सिंह को पेट्रोल छिड़क कर जलाने की कोशिश की। गंभीर रूप से झुलसी अंकिता ने रविवार सुबह रांची के रिम्स में इलाज के दरान दम तोड़ दिया। उसके निधन की खबर मिलते ही लोगों में आक्रोश फैल गया। गुस्साए लोगों ने दुमका बाजार को बंद कर दिया था, जबकि दुधानी में टावर चौक को जाम कर दिया गया था। इधर, जिला प्रशासन ने क्षेत्र में शांति बनाए रखने के उद्देश्य से धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी है।

राज्य सरकार ने की 10 लाख की सहायता राशि की घोषणा

इस मामले को सीएम हेमंत सोरेन ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने मृतक अंकिता के परिजनों को 10 लाख रुपये की सहायता देने की घोषणा की। साथ ही इस घटना के फास्ट ट्रैक से मामले को अंजाम देने के निर्देश दिए हैं। वहीं डीजीपी को निर्देश दिया गया है कि मामले की एडीजी रैंक के अधिकारी से जांच कराकर जल्द रिपोर्ट दें।

अंकिता के परिजनों को सौंपा गया चेक

राज्य सरकार के आदेश पर दुमका के डीसी रविशंकर शुक्ला ने अंकिता के पिता संजीव सिंह को सहायता के रूप में 9 लाख रुपये का चेक दिया। अंकिता के इलाज के लिए जिला प्रशासन ने संजीव को पहले ही एक लाख रुपये का चेक मुहैया कराया था। इस तरह अंकिता के परिवार वालों को सहायता के तौर पर कुल 10 लाख रुपये दिए गए हैं। डीसी ने अंकिता के पिता संजीव सिंह के घर पहुंचकर मदद की।