Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Monday, April 15, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

विधानसभा में दूसरे दिन भी बीजेपी विधायकों का हंगामा, वादा खिलाफी पर सरकार को घेरा

रांची : झारखंड विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को बीजेपी विधायकों ने प्रदर्शन किया। बेरोजगारी, नियोजन नीति समेत कई मुद्दों पर सरकार पर युवाओं से किये वादे से मुकर जाने का आरोप लगाया। बीजेपी विधायकों ने गेट के बाहर गाना गाया, जो वादा किया वो निभाना पडेगा. विधायकों ने कहा कि यह सरकार झारखंड के बेरोजगार युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। फर्जी नियोजन नीति बनाने वाली सरकार को शर्म आनी चाहिए।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले बीजेपी विधायकों ने मेन गेट पर धरना दिया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। लानत है फर्जी नियोजन नीति बनाने वाले ठग हेमंत सरकार पर, झारखंड के बेरोजगार युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ बंद करो का बैनर लेकर विपक्ष हंगामा कर रहे थे। भाजपा विधायक राज सिन्हा ने कहा कि हेमंत सरकार ने फर्जी नियोजन नीति बनाकर प्रदेश के युवाओं को ठगने का काम किया है। भाजपा पहले से ही कह रही थी कि सरकार की बनायी नीति में न सिर्फ त्रुटियां हैं, बल्कि संविधान के मौलिक अधिकारों का भी हनन है। अंत में कोर्ट ने सरकार की गलत नियोजन नीति को खारिज कर दिया।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

विधायक मनीष जायसवाल ने कहा कि इसमें सरकारी काम जनहित के लिए नहीं बल्कि स्वार्थ के लिए किया जा रहा है। हर साल पांच लाख नौकरी देने का वादा कर सत्ता में आयी हेमंत सरकार तीन साल बाद एक भी नौकरी नहीं दे पायी। इतना ही नहीं जिस तरह से सरकार लगातार गलत नीतियां बना रही है उसका खामियाजा प्रदेश के युवाओं को भुगतना पड़ रहा है। विधायक अमर बावरी ने कहा कि राज्य सरकार अपनी नाकामी छिपाने के लिए गलत नीतियां बना रही है। जब उसकी गलत नीतियों को अदालत ने खारिज कर दिया, तो वह राजभवन जाने का नाटक करती है। उन्होंने कहा कि यह सरकार गरीब विरोधी, युवा विरोधी है। इस सरकार से किसी का भला होने वाला नहीं है।

कांग्रेस विधायक भी बैठे धरने पर

कांग्रेस विधायक दीपिका पांडे सिंह, इरफान अंसारी और अंबा प्रसाद विधानसभा के मुख्य द्वार पर धरने पर बैठ गये। विधायक दीपिका पांडेय सिंह ने कहा कि झारखंड में आरएसएस का एजेंडा नहीं चलेगा. यह सही है कि कोर्ट ने नियोजन नीति को रद्द कर दिया लेकिन सरकार इसे लेकर नया रास्ता तलाश रही है। इसको लेकर भाजपा के लोग बेरोकटोक हंगामा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज मुख्यमंत्री सभी दलों के विधायकों के साथ राज्यपाल से मिलने जा रहे हैं, जिसमें वह राज्यपाल से 1932 के खतियान और ओबीसी आरक्षण विधेयक पर जल्द सहमति देने का आग्रह करेंगे। इसमें सहयोग नहीं कर भाजपा बेवजह हंगामा कर रही है।