Breaking :
||भाजपा की मोटरसाइकिल रैली पर पथराव, कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट, कई घायल||झारखंड की तीन लोकसभा सीटों पर चुनाव प्रचार थमा, 20 मई को वोटिंग||पिता के हत्यारे बेटे की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त बंदूक बरामद समेत पलामू की तीन ख़बरें||चतरा लोकसभा क्षेत्र के नक्सल प्रभावित इलाके में नौ बूथों का स्थान बदला, जानिये||झारखंड हाई कोर्ट में 20 मई से ग्रीष्मकालीन अवकाश||पलामू: हार्डकोर इनामी माओवादी नीतेश के दस्ते का सक्रिय सदस्य गिरफ्तार||लातेहार: 65 हेली ड्रॉपिंग बूथ के लिए शुभकामनायें लेकर मतदान कर्मी रवाना||KIDZEE लातेहार के बच्चों ने मतदाताओं से की अपील- पहले मतदान, फिर कोई काम||पलामू में शौच के लिए निकली नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म, चार आरोपी गिरफ्तार||लातेहार अनुमंडल क्षेत्र में चुनाव के मद्देनजर चार जून तक धारा 144 लागू
Sunday, May 19, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

सरना झंडा जलाने के विरोध में आदिवासी संगठनों का कल रांची बंद

रांची : असामाजिक तत्वों द्वारा पवित्र सरना झंडा को जलाये जाने के खिलाफ सभी आदिवासियों और सरना धर्मावलंबियों में रोष है। इसके तहत शुक्रवार को पाहन महासभा झारखंड प्रदेश व सभी आदिवासी मूलनिवासी संगठनों ने 8 अप्रैल को रांची बंद का आह्वान किया है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस मौके पर जगदीश पाहन ने कहा कि अल्बर्ट एक्का चौक पर विशाल मशाल जुलूस निकाला गया और जिला प्रशासन से मांग की गयी कि असामाजिक तत्वों ने आदिवासी सरना धर्मावलंबियों की भावनाओं और धर्म के साथ खिलवाड़ किया है। अब तक उन पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। इसी का परिणाम है कि हम सभी आदिवासी सरना धर्मावलंबी शनिवार के रांची बंद को पूरी एकजुटता के साथ शांतिपूर्ण तरीके से सफल बनाएंगे। उन्होंने कहा कि अगर उसके बाद भी प्रशासनिक पहल नहीं की गयी तो हम सब उग्र आंदोलन करने को बाध्य होंगे।