Breaking :
||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर||युवक ने थाने की हाजत में लगायी फां*सी, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप
Sunday, February 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: धनबाद जेल में हुई घटना के बाद मेदिनीनगर सेंट्रल जेल में छापा, बंद हैं कई बड़े कुख्यात सरगना

पलामू : धनबाद जेल में बंद अमन सिंह की हत्या के बाद प्रशासन अलर्ट हो गया है। जेलों की सुरक्षा बढ़ा दी गयी है। इसी सिलसिले में रविवार की आधी रात मेदिनीनगर सेंट्रल जेल में छापेमारी की गयी। छापेमारी करीब दो घंटे तक चली। हालांकि इस क्रम में किसी भी प्रकार का कोई आपत्तिजनक सामान बरामद नहीं हुआ। छापेमारी में एक दर्जन से अधिक मजिस्ट्रेट और 150 से अधिक पुलिसकर्मी शामिल थे। बता दें कि सेंट्रल जेल में कुख्यात अपराधी सरगना अमन साव समेत करीब 1100 कैदी बंद हैं।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

रविवार को धनबाद मंडल कारा में बंद अमन सिंह की हत्या के बाद जेलों में कोई घटना न हो इसके लिए अलर्ट भेजा गया है। इसके मद्देनजर रविवार की रात करीब 12 बजे मेदिनीनगर सेंट्रल जेल में छापेमारी की गयी। इसकी पुष्टि एसपी रीष्मा रमेशन ने की है। एसपी ने इसे रूटिंग जांच बताया है। जांच के दौरान कोई आपत्तिजनक सामग्री बरामद नहीं हुई है।

छापेमारी का नेतृत्व प्रशिक्षु आईएएस व एसडीपीओ सुरजीत कुमार ने किया। इस दौरान एक दर्जन से अधिक मजिस्ट्रेट और 150 से अधिक पुलिसकर्मी शामिल थे।

वर्तमान में सेंट्रल जेल में करीब 1100 कैदी बंद हैं। इसी जेल में कुख्यात सरगना अमन साव भी बंद है। इसके अलावा कई कुख्यात नक्सली और अपराधी भी जेल में बंद हैं। बताया जा रहा है कि किसी भी संभावित खतरे को देखते हुए सर्च ऑपरेशन चलाया गया।

पिछले तीन महीने में सेंट्रल जेल में चार बार छापेमारी हो चुकी है। लेकिन कभी कोई आपत्तिजनक सामग्री बरामद नहीं हुई। इससे पहले हुई छापेमारी के दौरान कुख्यात अपराधी अमन साव समेत अन्य कैदियों के सेल की विशेष तलाशी ली गयी थी। इस दौरान अधिकारियों ने जेल में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया।

Palamu Medininagar jail raid