Breaking :
||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम||सतबरवा प्रखंड के रैयतों ने सांसद से की मुलाकात, उचित मुआवजा दिलाने की मांग||पलामू में तीन अलग-अलग सड़क हादसों में तीन की मौत, नेतरहाट घूमने जा रहा एक पर्यटक भी शामिल||केंद्रीय मंत्री शिवराज व असम के मुख्यमंत्री हिमंता झारखंड विधान सभा चुनाव में भाजपा का करेंगे बेड़ापार||झारखंड में पांच नक्सली ढेर, एक महिला नक्सली समेत दो गिरफ्तार, हथियार बरामद||अब स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग स्कूली बच्चों को नशीले पदार्थो के सेवन से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में करेगा जागरूक||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर
Tuesday, June 18, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड: प्रोफेसर की पत्नी ने 15वीं मंजिल से लगायी छलांग, मौत

धनबाद : धनबाद स्थित आईआईटी आइएसएम के स्टाफ अपार्टमेंट के आठवे माले पर रहने वाले संस्थान के मेकेनिकल विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर पवन कुमार की पत्नी शिल्पा सिंह (40) ने रविवार दोपहर करीब 12:15 बजे अपने ही अपार्टमेंट के 15वीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली। जिससे संस्थान में हड़कंप मच गया। पुलिस शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए एसएनएमएमसीएच भेज दिया है।

घटना के संबंध में बताया जाता है कि आईआईटी आइएसएम के एसोसिएट प्रोफेसर पवन सिंह की पत्नी शिल्पा सिंह पिछले कई वर्षों से मानशिक रोग से जूझ रही थी। रांची में किसी मानसिक रोग के चिकित्सक के पास उनका इलाज भी चल रहा था। रविवार को जब वह घर पर अकेली थी, उसी दौरान वह अपने अपार्टमेंट के 15वीं मंजिल से कूदकर अपनी जान दे दी।

मृतिका के पति प्रोफेसर पवन कुमार मूल रूप से बिहार के गोपालगंज के रहने वाले थे। उनका एक 11 वर्ष का एक पुत्र भी है। वर्ष 2018 से वह धनबाद के आईआईटी आइएसएम के मैकेनिकल विभाग में बतौर एसोसिएट प्रोफेसर के रूप में अपना योगदान दे रहे थे। वहीं मौके पर पहुंची धनबाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए एसएनएमएमसीएच भेज दिया है।