Breaking :
||वेतन नहीं मिलने से नहीं हुआ बेहतर इलाज, गढ़वा में DRDA कर्मी की मौत||लातेहार: हेरहंज में पेड़ से गिरकर युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल||लातेहार: सड़क दुर्घटना में घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर

बिहार में सियासी हलचल, नीतीश के पालाबदल की चर्चा, दिल्ली बुलाए गए भाजपा नेता

पटना : आरसीपी सिंह के जदयू से इस्तीफे के बाद से बिहार में सियासी हलचल तेज हो गई है। चर्चा है कि राजनीति में पलटू कुमार के नाम से मशहूर राज्य के सीएम एक बार फिर पलटकर बीजेपी छोड़कर तेजस्वी यादव की आरजेडी से हाथ मिला सकते हैं। आज कांग्रेस और राजद के रुख ने भी इन अटकलों को तेज कर दिया है। दोनों पार्टियों ने नीतीश कुमार के साथ आने की बात कही है। ।

इसके अलावा बीजेपी भी काफी सक्रिय है। पार्टी नेतृत्व ने रविशंकर प्रसाद और शाहनवाज हुसैन को दिल्ली बुलाया है। माना जा रहा है कि दोनों नेताओं को आलाकमान ने बिहार में जारी राजनीतिक संकट पर चर्चा के लिए बुलाया है।

वहीं राजद के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने सोमवार को कहा कि अगर नीतीश कुमार बीजेपी छोड़ते हैं तो हम उन्हें साथ ले जाने के लिए तैयार हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा और जदयू का मंगलवार को विधायकों की बैठक बुलाना इस बात का संकेत है कि कुछ असामान्य हो रहा है। उन्होंने कहा कि मैं व्यक्तिगत रूप से नहीं जानता कि क्या हो रहा है। लेकिन इस बात को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है कि जिन पार्टियों के पास बहुमत के लिए पर्याप्त संख्या है, उन्होंने अपने विधायकों की बैठक बुलाई है।

तिवारी ने कहा कि अगर नीतीश कुमार एनडीए छोड़ते हैं तो हम उन्हें गले लगाने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा बिहार में भाजपा से मुकाबला करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि अगर इस जंग में सीएम हमारे साथ आते हैं तो वह तैयार हैं।

इसके अलावा कांग्रेस विधायक शकील अहमद खान भी नीतीश कुमार के होश में आने पर साथ आने को तैयार हो गए हैं। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि हम बिहार में नीतीश कुमार का समर्थन करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार वैश्विक नेता हैं। कांग्रेस विधायक शकील अहमद खान ने कहा कि हमारी हमेशा से कोशिश रही है कि बीजेपी को सत्ता से दूर रखा जाए. हम चाहते हैं कि नीतीश कुमार साथ आएं और सेक्युलर मूड वाली पार्टियों को बीजेपी के खिलाफ एकजुट होना चाहिए। इस एकता की बहुत जरूरत है।

बता दें कि अगले सोमवार से मंगलवार तक बिहार के सभी प्रमुख दलों ने विधायक दल की बैठक बुलाई है। नीतीश कुमार ने पारी को लेकर कुछ नहीं कहा है, लेकिन चर्चाएं तेज हैं। नीति आयोग की बैठक में उनके न आने को लेकर अटकलें जोरों पर हैं। यह लगातार चौथा कार्यक्रम था जिसमें नीतीश कुमार ने हिस्सा नहीं लिया।