Breaking :
||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री||JPSC पीटी के मॉडल आंसर को चुनौती देने वाली याचिका हाईकोर्ट में खारिज, परीक्षा का रास्ता साफ||लातेहार: सेरेगड़ा पंचायत सेवक अर्जुन राम रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार
Friday, June 21, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार: प्रदर्शन से पहले ही पुलिस ने किया आजसू नेताओं को गिरफ्तार, आक्रोशित कार्यकर्ताओं ने किया मुख्यमंत्री का पुतला दहन

लातेहार : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की जोहार यात्रा के दौरान लातेहार में दो कॉलेजों के शिलान्यास के 10 महीने बाद भी पढ़ाई शुरू नहीं होने के विरोध में आजसू पार्टी बुधवार को मुख्यमंत्री के कार्यक्रम का बहिष्कार करते हुए प्रदर्शन करने वाली थी।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इसकी जानकारी मिलते ही आजसू जिला अध्यक्ष अमित पांडे, केंद्रीय सदस्य राकेश सिंह और जिला उपाध्यक्ष विजेंद्र दास को मंगलवार की रात ही गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तारी से नाराज आजसू कार्यकर्ताओं ने बुधवार को थाना गेट के सामने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का पुतला फूंका।

आजसू जिला अध्यक्ष अमित कुमार पांडे ने कहा कि आजसू पार्टी आंदोलन से जन्मी पार्टी है। वह लाठी, गोली या जेल से नहीं डरती। उन्होंने कहा कि आंदोलन को जितना दबाया जायेगा। वह उतना ही उग्र हो जायेगा। उन्होंने कहा कि आजसू पार्टी ने डिग्री कॉलेज का ताला खुलवाने के लिए आंदोलन शुरू किया है, वह आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने आगे कहा कि गठबंधन सरकार जोर-शोर से दावा करती है कि बोलने की आजादी है, लेकिन जब आवाज उठाती है तो उसे दबा दिया जाता है। उन्होंने कहा कि आजाद भारत में सभी को अपनी आवाज उठाने और विरोध करने का अधिकार है, लेकिन आवाज उठाने के प्रति सरकार के इशारे पर जिला प्रशासन ने जिस तरह का रवैया अपनाया है। वह ठीक नहीं है।

मौके पर जिला प्रवक्ता रितेश पांडेय, प्रखंड अध्यक्ष अमर उरांव समेत कई कार्यकर्ता मौजूद थे।