Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Monday, April 15, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

रांची: PLFI के उग्रवादियों ने पांच वाहनों को फूंका, DIG ने वारदात स्थल का किया निरीक्षण

रांची : प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन पीपुल्स लिबरेशन फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएलएफआई) उग्रवादियों ने क्रशर में खड़े तीन हाइवा, एक लोडर और एक डीजी को फूंकने का मामला शनिवार को प्रकाश में आया है। घटना शुक्रवार देर रात की है। मामले की जानकारी मिलने के बाद डीआइजी अनुप बिरथरे, सिटी एसपी राजकुमार मेहता और वरीय अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे और पूरी घटना की जानकारी ली। साथ ही मौजूद अधिकारियों को कई निर्देश दिये।

Ranchi PLFI Attack News
Ranchi PLFI Attack News

मिली जानकारी के अनुसार पिठौरिया थाना के सना स्टोन डिपॉजिट क्रेशर में चार-पांच की संख्या में हथियार बंद उग्रवादी पहुंच कर खुलकर ताडंव किया। क्रशर में उपस्थित मुंशी से मालिक के बारे में पूछताछ की। सही जवाब नहीं मिलने पर क्रशर के कार्य में लगे तीन हाइवा, एक लोडर और एक डीजे को फूंक डाला।

मौके पर कार्य कर रहे मजदूर ने कहा कि क्रशर के पूर्व दिशा की ओर से पैदल चार-पांच की संख्या में नकाबपोश हथियारबंद लोग क्रशर पहुंचे थे और कहा, काम बंद करो। इसके बाद गाड़ी से उतार कर, मोबाइल स्विच ऑफ करवा कर मोबाइल अपने पास लेकर वाहनों पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी।

उग्रवादियों ने कहा कि हम लोग कृष्ण यादव उर्फ सुल्तान के आदमी हैं। मालिक को कह देना यहां पर काम नहीं करना है। यह कहते हुए कार्य कर रहे मजदूरों के छह मोबाइल को जब्त कर लिया और साथ लेकर चल दिये। मालिक को फोन पर इसकी सूचना हमलोगों ने दी। क्रशर के संचालक वारिस अंसारी ने कहा कि फोन के जरिए हम लोग को सूचना स्टाफ ने दी। इसके बाद हम लोग क्रशर पहुंचे। वारिस अंसारी ने कहा कि इसके बाद प्रशासन को घटना की सूचना दी।

क्रशर संचालक अंसारी ने बताया कि 28 फरवरी को क्रशर के स्टाफ रामचन्द्र के मोबाइल नर उग्रवादी कृष्णा यादव उर्फ सुल्तान के नाम पर धमकी भरा फोन आया था। उस दौरान कहा गया था कि मालिक को बोल देना यहां पर काम बंद कर दे और संगठन से बात करें। इसके बाद हम लोगों ने थाना को इसकी सूचना दी थी।

इससे पूर्व भी पिछले वर्ष जनवरी में भी कृष्ण यादव उर्फ सुल्तान के नाम से कुछ उग्रवादी क्रशर में घुसकर स्टाफ के साथ मारपीट करते हुए अपना लेटर पैड पर पांच लाख का लेवी का पर्चा दिया था। इस घटना में लगभग दो करोड़ का नुकसान हुआ है।

डीआईजी ने बताया कि लेवी को लेकर पीएलएफआई की ओर से घटना को अंजाम दिया गया है। कृष्णा यादव उर्फ सुल्तान की गिरफ्तारी के लिए कई रातू, कांके पिठौरिया, ओरमांझी थाना प्रभारियों को शामिल कर एक विशेष टीम का गठन किया गया है। साथ ही इनके समर्थकों को गिरफ्तार करने का निर्देश दिया गया है। कृष्णा यादव उर्फ सुल्तान चान्हो का रहने वाला है। इसके खिलाफ कुर्की जब्ती करने का भी निर्देश दिया गया है।

Ranchi PLFI Attack News