Breaking :
||हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने राजनीति से लिया संन्यास, भाजपा अध्यक्ष को लिखा पत्र, जानिये वजह||दुमका में स्पेनिश महिला पर्यटक से गैंग रेप, तीन आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: बारियातू में बाइक पर अवैध कोयला ले जा रहे नौ लोग गिरफ्तार, जेल||लातेहार: अपराध की योजना बनाते दो युवक हथियार के साथ गिरफ्तार||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक||लोकसभा चुनाव: भाजपा ने की झारखंड से 11 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, चतरा समेत इन तीन सीटों पर सस्पेंस बरकरार||लोससभा चुनाव: भाजपा की 195 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, देखें पूरी लिस्ट||सदन की कार्यवाही शुरू होते ही सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायकों का हंगामा||झारखंड विधानसभा: बजट सत्र के अंतिम दिन कई विधेयक पारित||धनबाद: अस्पताल में लगी आग, मची अफरा-तफरी, मरीज और परिजन जान बचाकर भागे
Sunday, March 3, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

पारा शिक्षकों को लगा तगड़ा झटका, झारखंड हाई कोर्ट ने खारिज की याचिका

रांची : झारखंड हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश डॉ. रवि रंजन और जस्टिस सुजीत नारायण प्रसाद की खंडपीठ ने टेट पास पारा शिक्षकों के समायोजन से जुड़े मामले में शुक्रवार को फैसला सुनाते हुए पारा शिक्षकों की याचिका को खारिज कर दिया है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

हाईकोर्ट के इस फैसले से पारा शिक्षकों को बड़ा झटका लगा है। दोनों पक्षों की सुनवाई पूरी होने के बाद कोर्ट ने पहले इस मामले में फैसला सुरक्षित रख लिया था।

पारा शिक्षकों के सहायक शिक्षक के रूप में वेतन व नियमितीकरण के मामले में याचिकाकर्ता सुनील कुमार यादव व अन्य की ओर से हाईकोर्ट में करीब 111 याचिकाएं दाखिल की गयी हैं।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

याचिका में कहा गया है कि पारा शिक्षक 15 साल से अधिक समय से काम कर रहे हैं। वे शिक्षक पद के लिए योग्यता भी पूरी करते हैं। याचिका में की गयी मुख्य मांग यह है कि राज्य सरकार उनकी सेवा को स्थायी करे और उन्हें सहायक शिक्षक के पद पर समायोजित करे।