Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में बोलेरो ने बाइक में पीछे से मारी टक्कर, दो IRB जवान समेत चार घायल, दो रिम्स रेफर, सड़क जाम||पलामू में ट्रक ने झामुमो नेता के रिश्तेदार को रौंदा||झारखंड में बड़ा सड़क हादसा, तीन की मौत, सात घायल||झारखंड में लोकसभा चुनाव के छठे चरण में 65.40 फीसदी वोटिंग, गिरिडीह और धनबाद में महिलाएं तो रांची और जमशेदपुर में पुरुषों ने मारी बाजी||बड़ी घटना को अंजाम देने आये अमन साहू गिरोह के चार शूटर चढ़े पुलिस के हत्थे||प्रेमी ने शादी का झांसा देकर किया यौन शोषण, धोखा बर्दाश्त नहीं कर पायी प्रेमिका, की जान देने की कोशिश, मामला दर्ज||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर 62.13 फीसदी वोटिंग, सबसे अधिक जमशेदपुर, सबसे कम रांची में मतदान||झारखंड में कल से दिखेगा चक्रवाती तूफान ‘रेमल’ का असर, लातेहार, गढ़वा, पलामू व चतरा जिले में भी असर||लातेहार: दुकान में चोरी करने आये तीन चोर आग में झुलसे, एक की मौत, दो गंभीर||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर वोटिंग कल, 82 लाख मतदाता करेंगे 93 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला
Monday, May 27, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

रांची झामुमो कार्यालय के सामने पंचायत सचिवालय स्वयंसेवक संघ ने अपनी मांगों को लेकर नंग धड़ंग किया प्रदर्शन

रांची : पंचायत सचिवालय स्वयंसेवक संघ के कर्मचारियों ने मंगलवार को नंग धड़ंग अवस्था में हरमू स्थित झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया। संघ के कर्मचारी हरमू मैदान से नंग धड़ंग अवस्था में झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यालय घेरने पहुंचे लेकिन झामुमो कार्यालय के सामने भारी संख्या में पुलिस की तैनाती कर कार्यालय के सामने बैरिकेडिंग की गयी थी।

संघ के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रदीप कुमार ने कहा कि अपनी पांच सूत्री मांग को लेकर पिछले 123 दिनों से राज्य स्तरीय पंचायत सचिवालय स्वयं सेवक संघ का अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन राजभवन के समक्ष जारी है। अब तो लगता है कि हमलोगों की दीपावली भी राजभवन के समक्ष ही मनानी पडेगी। सरकार तो हमें कपड़े खरीदने के लिए भी पैसे नहीं दे सकती है। इसलिए हम अर्धनग्न प्रदर्शन करने को विवश हो गये हैं।

उन्होंने कहा कि उनकी पांच मांगें हैं। इनमें पंचायत सचिवालय स्वयं सेवकों को मानदेय देने, पंचायत सचिवालय स्वयंसेवक की सेवा स्थायी करने, पंचायत सचिवालय स्वयं सेवक का नाम बदलकर पंचायत सहायक करने, पंचायत सचिवालय स्वयंसेवक के सदस्यों को पंचायती राज विभाग में समायोजन करने और मुख्यमंत्री से संघ के 10 सदस्य प्रतिनिधिमंडल की वार्ता कराने की मांग शामिल हैं।

इस मौके पर अशोक, प्रमोद, काशीनाथ, हिसाबी, रोहित, तारा चंद, सदाम, गीता, सुरेन्द्र, पूनम, कमल, समीर, मुंशी, सुरेश, उदय, श्याम, दीपक, रंजीत, कमल सहित सैकड़ों पंचायत सेवक मौजूद थे।

Ranchi Panchayat Secretariat Sangh demonstrated