Breaking :
||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज||पलामू: संदिग्ध हालत में स्कूल में फंदे से लटका मिला प्रधानाध्यापक का शव, हत्या की आशंका||लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम||मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने आलमगीर आलम से लिए सभी विभाग वापस||पलामू: कोयला से भरा ट्रक और बीड़ी पत्ता लदा ऑटो जब्त, पांच गिरफ्तार, दो लातेहार के निवासी||लातेहार: नहाने के दौरान तालाब में डूबने से दस वर्षीय बच्चे की मौत, शव की तलाश में जुटे ग्रामीण
Thursday, June 13, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

सफलता: पलामू पुलिस ने गैंगस्टर सुजीत सिन्हा की पत्नी के बॉडीगार्ड को हथियारों के जखीरे के साथ पकड़ा, पत्नी ने इंदौर से मंगवाया था हथियार

पलामू : गैंगस्टर सुजीत सिन्हा की पत्नी रिया सिन्हा तक पहुंचने से पहले ही पलामू पुलिस ने हथियारों का जखीरा बरामद कर लिया। इस मामले में रिया सिन्हा के बॉडीगार्ड मनीष कुमार राम उर्फ मयंक वर्मा (28) को नौडीहा पाटन से गिरफ्तार किया गया है।

बरामद हथियारों में 9 एमएम बोर की दो पिस्तौल, 7.65 एमएम बोर की पांच पिस्तौल, 7.62 एमएम बोर की एक पिस्तौल के अलावा 7.62 एमएम बोर की पांच गोलियां, 9 एमएम बोर की छह गोलियां, 7.65 एमएम बोर की पांच गोलियां शामिल हैं। 9 एमएम की एक मिस फायर गोली और 7.65 की तीन मिस फायर गोली भी मिली हैं। इसके अलावा चार मैगजीन भी बरामद हुई हैं।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

पुलिस अधीक्षक रिष्मा रमेशन ने एसपी कार्यालय में मंगलवार को पत्रकारों को बताया कि 21 अगस्त को गुप्त सूचना मिली थी कि सुजीत सिन्हा एवं उसकी पत्नी रिया सिन्हा गिरोह का एक सक्रिय सदस्य भारी मात्रा में हथियार लेकर छत्तीसगढ़ की बस में बैठकर डालटनगंज की ओर आ रहा है। सूचना के आलोक में रेहला थाना के सामने चेकपोस्ट के पास चेकिंग अभियान चलाया गया। बस को रोकने पर एक यात्री काला बैग लेकर बड़ी तेजी से उतरकर भागने लगा, जिसे सशस्त्रबल के सहयोग से घेरकर पकड़ लिया गया। बाद में उसने अपनी पहचान बतायी।

बैग की तलाशी लेने पर उसमें अलग-अलग बोर की आठ अवैध पिस्टल एवं गोली बरामद की गयीं। मयंक को गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में मयंक ने बताया कि हथियार सुजीत सिन्हा की पत्नी रिया सिन्हा ने मध्य प्रदेश के इंदौर-मनावर से मंगाया था। मयंक ने यह भी जानकारी दी कि उसके अलावा सुजीत सिन्हा गिरोह का एक अन्य सक्रिय सदस्य भी इसमें शामिल है। उसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

एसपी ने बताया कि मयंक के खिलाफ रांची जिले में चार मामले दर्ज हैं। इनमें से दो मामले नगड़ी, एक कांके और एक सुखदेवनगर थाना में दर्ज है। मयंक एक से डेढ़ साल की सजा काटने के बाद 23 फरवरी को जमानत पर बाहर आया था। हथियार लाकर पहुंचाने के एवज में उसे 30 हजार रुपये मिलने थे।