Breaking :
||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन||हेमंत ने जमशेदपुर वासियों को दी सौगात, जुगसलाई ओवरब्रिज का किया उद्घाटन||जमशेदपुर-कोलकाता विमान सेवा का शुभारंभ, मुख्यमंत्री ने कहा- सभी जिलों को हवाई सेवा से जोड़ने की तैयार की जा रही कार्ययोजना||पलामू में हल्का कर्मचारी रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||पाकुड़: मूर्ति विसर्जन के दौरान असामाजिक तत्वों ने जुलूस पर किया पथराव||हजारीबाग: पुआल में लगी आग, दो मासूम बच्चे जिंदा जले, पुलिस जांच में जुटी||चाईबासा: PLFI के तीन उग्रवादी गिरफ्तार, AK-47 समेत अन्य हथियार बरामद

पलामू सांसद ने चतरा डीसी अबु इमरान के खिलाफ की विशेषाधिकार हनन की शिकायत, लोकसभा पहुंचा मामला

झारखंड में इस समय कई आईएएस संकट का सामना कर रहे हैं। पूजा सिंघल और रियाज अहमद के बाद अब चतरा जिले के डीसी अबु इमरान विवादों में आ गए हैं। उनके खिलाफ पलामू के सांसद ने विशेषाधिकार हनन की शिकायत कर कर दी है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

पलामू संसदीय क्षेत्र के सांसद विष्णु दयाल राम के साथ लातेहार के तत्कालीन और चतरा के वर्तमान डीसी अबु इमरान द्वारा किए गए अवमानना की शिकायत का मामला अब लोकसभा की विशेषाधिकार समिति के पास पहुंच गया है। समिति के सभापति चतरा सांसद सुनील कुमार सिंह ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि कार्रवाई के लिए नोटिस को लोकसभा अध्यक्ष के पास भेजेंगे।

पलामू के सांसद विष्णु दयाल राम ने बताया कि वे पिछले 27 जून को संगठन के कार्य से प्रदेश मुख्यालय जा रहे थे। उनके साथ एक दूसरे वाहन में संसदीय क्षेत्र के चैनपुर प्रखंड के जिला परिषद अध्यक्ष प्रमोद कुमार सिंह भी साथ थे। इस बीच विश्राम के लिए कुछ देर तक लातेहार परिसदन में रुके थे।

पलामू की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस दौरान लातेहार के तत्कालीन उपायुक्त अबु इमरान अपने सरकारी वाहन से परिसदन से बाहर निकल रहे थे। लेकिन मुख्य द्वार पर खड़े कुछ वाहनों के कारण जाम की स्थिति बन गई थी। उपायुक्त अपने वाहन से उतरकर जिला परिषद सदस्य प्रमोद सिंह के चालक का लाइसेंस जप्त कर लिया। यही नहीं उन्होंने वाहन की चाभी भी जप्त कर ली।

इसकी जानकारी मिलने के बाद पलामू सांसद ने चालक को कागजी प्रक्रिया होने तक थोड़ा सब्र रखने को कहा। लेकिन उपायुक्त के रवैया और जांच प्रक्रिया से हुए विलंब के कारण सांसद समय से बैठक में नहीं पहुंच सके। सांसद ने बताया कि लातेहार के तत्कालीन उपायुक्त द्वारा एक जनप्रतिनिधि के साथ किया गया व्यवहार को सही नहीं माना जा सकता है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

वहीं चैनपुर के जिला परिषद सदस्य प्रमोद कुमार सिंह ने बताया कि घटना के दिन उपायुक्त अबु इमरान जिम करने परिसदन आए थे। इस बीच उनके वाहन के चालक से लाइसेंस लेकर वापस परिसदन चले गए। कुछ देर के बाद गलत पार्किंग में वाहन खड़े होने की बात लिखवा कर लाइसेंस और चाभी वापस किया गया था। इस बीच वे काफी देर तक जिम में उपस्थित रहे। लेकिन यह जानने के बाद भी कि पलामू सांसद परिसदन में मौजूद हैं, उन्होंने उनसे मुलाकात तक नहीं की।