Breaking :
||वेतन नहीं मिलने से नहीं हुआ बेहतर इलाज, गढ़वा में DRDA कर्मी की मौत||लातेहार: हेरहंज में पेड़ से गिरकर युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल||लातेहार: सड़क दुर्घटना में घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर

पलामू में तेंदुआ: अब सतबरवा में ग्रामीण पर तेंदुए ने किया हमला, लड़कर बचायी जान, बुरी तरह से जख्मी, रिम्स रेफर

पलामू में तेंदुआ

राजीव सोनी/सतबरवा

पलामू : सतबरवा थाना अंतर्गत पोलपोल पंचायत के करमा डुबलगंज निवासी परमेश्वर सिंह (55) पर रविवार की अहले सुबह तेंदुए ने हमला कर बुरी तरह घायल कर दिया। परमेश्वर सिंह के पैर और सिर में गंभीर चोटें आयी हैं।

घायल परमेश्वर

बेटी के घर से लौट रहा था परमेश्वर

प्राप्त जानकारी के अनुसार परमेश्वर सिंह अपने बेटी के घर घोरही से अपने गांव डूबलगंज लौट रहे थे। इसी बीच तेंदुआ ने अचानक उन पर जानलेवा हमला कर दिया। इस दौरान तेंदुए ने परमेश्वर सिंह का सिर बुरी तरह से नोचा और शरीर के अन्य हिस्सों में भी पंजे मारे, जिससे वह बुरी तरह जख्मी हो गया। किसी तरह तेंदुए से लड़कर जान बचाते हुए भागकर वह घर पहुंचा। जहां घटना की जानकारी देते हुए बेहोश हो गया।

पलामू की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

परमेश्वर के सर पर गहरे जख्म

बेहोशी की हालत में परिजन व ग्रामीण किसी तरह आनन-फानन में उसे सदर अस्पताल डालटनगंज ले गये और भर्ती कराया। जहां डॉक्टरों ने सिर पर पट्टी बांधकर बेहतर इलाज के लिए उसे रांची रिम्स रेफर कर दिया। घायल की स्थिति गंभीर बनी हुई है। चिकित्सकों ने बताया कि उसके सर पर गहरे जख्म हैं जिस कारण उसकी स्थिति गंभीर बनी हुई है।

मुखिया पति ने की मदद

घटना की सूचना पर पोलपोल मुखिया पति भरदुल सिंह व डालसा के पैनल अधिवक्ता संतोष कुमार पांडेय भी सदर अस्पताल पहुंचे और ग्रामीणों की मदद की। इसके बाद जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन और वन विभाग के अधिकारियों को घटना की जानकारी दी गयी।

वन विभाग ने दी सहायता राशि

घटना की जानकारी मिलते ही वन विभाग के लोग सदर अस्पताल पहुंचकर घायल के इलाज के लिए तत्काल 25 हजार रुपये नगद प्रदान किया। डॉ रत्ना के देखरेख में उनका इलाज चल रहा था। इसी बीच उनकी हालत को नाजुक देखते हुए बेहतर इलाज के लिए रांची रिम्स रेफर कर दिया गया है।

ग्रामीणों में आक्रोश

इधर, घटना की सूचना पर गांव पहुंचे वन कर्मियों को ग्रामीणों के विरोध का सामना करना पड़ा। ग्रामीण सुरक्षा और तेंदुए को कैद करने की मांग कर रहे थे। इस दौरान ग्रामीणों ने वन विभाग मुर्दाबाद के नारे भी लगाये।

आदमखोर तेंदुए से निजात दिलाने की मांग

वहीं ग्रामीणों ने कहा कि कई दिनों से इस तरह की घटनाएं हो रही हैं। ऐसी घटनाओं से ग्रामीण काफी चिंतित हैं। ऐसी घटना कब, कहां और किसके साथ हो जाये, इसका कोई ठिकाना नहीं है। सरकार इस तरह की घटना पर बड़ी कार्रवाई करे और किसी तरह आदमखोर तेंदुए को पकड़कर पिंजरे में बंद करे।

पलामू में तेंदुआ