Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Monday, April 15, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड: अब सरकारी स्कूल के बच्चों को मिलेगा हलवा और लड्डू

रांची : प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को अब हलवा और लड्डू मिलेगा। इसके लिए दिशा-निर्देश भी जारी कर दिये गये हैं। मध्याह्न भोजन के लिए 9 करोड़ 72 लाख रुपये आवंटित किये गये हैं। यह जानकारी झारखंड राज्य मध्याह्न भोजन प्राधिकरण की निदेशक किरण कुमारी पासी ने सभी जिला शिक्षा अधीक्षकों को दी है।

निदेशक ने पत्र में लिखा है कि प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना के क्रियान्वयन हेतु वर्ष 2023-24 हेतु भारत सरकार द्वारा अनुमोदित बजट के आधार पर जिलों को सामग्री लागत (केन्द्रांश एवं राज्यांश) दी जायेगी। अप्रैल, 2023 से मार्च, 2024 तक 253 दिनों के लिए शेयर) मद में राशि का आवंटन पोर्टल आधार पर किया गया है।

निदेशक ने लिखा है कि मध्याह्न भोजन के अतिरिक्त सामग्री लागत की आवंटित राशि से रागी (मडुआ) हलवा/रागी लड्डू उपलब्ध कराया जाना है। फिलहाल आवंटित राशि से आठ दिनों के लिए व्यय का प्राधिकार दिया जा रहा है।

जिला शिक्षा अधीक्षक विद्यालय को आवंटित राशि का उपावंटन प्रखंड स्तर पर तीन दिनों के अंदर एवं प्रखंड स्तर पर सात दिनों के अंदर सुनिश्चित करेंगे।

रागी (मडुआ) हलवा/लड्डू हेतु केन्द्रांश एवं राज्यांश की राशि 4.15 रूपये प्रति छात्र की दर से आठ दिनों (माह में 4 दिन) हेतु आवंटित की गयी है।

रागी लड्डू प्रत्येक सप्ताह बुधवार को (कार्य दिवस के अनुसार) देना चाहिए। यदि बुधवार कार्य दिवस नहीं है तो इसे अगले कार्य दिवस पर दिया जाना चाहिए।

रागी (मडुआ) का हलवा/लड्डू बनाने की विधि नमूने के तौर पर पत्र के साथ संलग्न है। साथ ही, कुक सह सहायक के लिए प्रशिक्षण मॉड्यूल में भी इसका उल्लेख किया गया है।

Jharkhand Latest News Today