Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

VIDEO: देखिए कैसे चंद सेकेंड में धराशायी हो गए नोएडा के मशहूर ट्विन टावर

नोएडा: नोएडा सेक्टर-93ए स्थित सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट के ट्विन टावरों को दोपहर ठीक 2.30 बजे 3700 किलोग्राम विस्फोटक के विस्फोट के बाद जमींदोज कर दिया गया है। विस्फोट से पहले नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे पर यातायात पूरी तरह से ठप हो गया था। स्थानीय लोग ट्विन टावर को देखने के लिए एक्सप्रेस-वे पर थे। इसके अलावा नोएडा-ग्रेटर नोएडा हाईवे को भी बंद कर दिया गया।

Raja AD

वहीं आसपास के इलाकों के लोग ट्विन टावरों के ढहने को देखने के लिए अपने घरों की छतों पर चढ़ गए. ट्विन टावर्स गिरने से नोएडा से ग्रेनो में परी चौक तक का रास्ता बंद हो गया था। करीब आधे घंटे पहले इसके लिए सायरन भी बजाया गया, वहीं पुलिस ने ड्रोन उड़ाकर हकीकत भी चेक की।

नोएडा के सेक्टर 93ए स्थित सुपरटेक ट्विन टावर को ध्वस्त कर दिया गया है. 3700 किलोग्राम विस्फोटक का उपयोग करके इमारत को ध्वस्त कर दिया गया था। कुछ समय पहले तक कुतुब मीनार के ऊपर ट्विन टावर दिखाई देता था, जो अब मलबे में तब्दील हो गया है।

ट्विन टावर्स के ढहने के बाद धूल का एक जबरदस्त बादल उमड़ पड़ा। बताया जा रहा है कि करीब दो घंटे तक धूल का गुबार हवा में रहेगा। आसपास के लोगों को हटा लिया गया है। स्वास्थ्य आपातकाल को देखते हुए तीन अस्पतालों को भी अलर्ट पर रखा गया है।

Raja AD 2

सुपरटेक ट्विन टावर्स को गिराने में करीब 17.55 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है। टावरों को गिराने का यह खर्च भी बिल्डर कंपनी सुपरटेक वहन करेगी। इन दोनों टावरों में कुल 950 फ्लैट बन चुके हैं और इन्हें बनाने में सुपरटेक ने 200 से 300 करोड़ रुपए खर्च किए थे।