Breaking :
||लातेहार: दो बाइकों की टक्कर में मामा-भांजा समेत चार घायल समेत बालूमाथ की दो खबरें||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस||झारखंड कैबिनेट की बैठक 19 जून को, लिये जायेंगे कई अहम फैसले||रजरप्पा को विश्वस्तरीय धार्मिक पर्यटन स्थल के रूप में किया जाये विकसित, कार्ययोजना करें तैयार : मुख्यमंत्री||झारखंड में IPS अधिकारियों का ट्रांसफर-पोस्टिंग||पलामू में प्रतिबंधित मांस का टुकड़ा फेंके जाने से तनाव, इलाका पुलिस छावनी में तब्दील||JBKSS प्रमुख जयराम महतो ने की विधानसभा चुनाव में 55 सीटों पर लड़ने की घोषणा||मुठभेड़ में पांच नक्सलियों को मार गिराने वाली टीम को DGP ने किया सम्मानित, कहा- मुख्य धारा में लौटें, अन्यथा मारे जायेंगे||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम
Wednesday, June 19, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

मैक्लुस्कीगंज में ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम में लगे कंटेनर में नक्सलियों ने लगायी आग, जिंदा जला मजदूर

रांची : जिले के मैक्लुस्कीगंज के दुल्ली करम कोचा स्थित भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) के ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम में लगे एक कंटेनर को नक्सलियों ने फूंक दिया, जिसमें एक मजदूर जिंदा जल गया। फॉरेंसिक एक्सपर्ट की टीम भी मैक्लुस्कीगंज पहुंच कर जांच कर रही है।

Ranchi McCluskieganj Naxal incident

ग्रामीण एसपी सुमित कुमार अग्रवाल और एसएसपी चंदन कुमार सिन्हा ने बुधवार को घटनास्थल का दौरा किया और वहां मौजूद लोगों से पूछताछ की। बताया कि मैक्लुस्कीगंज थाना क्षेत्र के दुल्ली करम कोचा में एसआईपीएल कंपनी बीएसएनल का ऑप्टिकल फाइबर बिछाने का काम कर रही है। मंगलवार की रात करीब 9:43 बजे चार अज्ञात हथियारबंद नक्सलियों ने वहां धावा बोला और कंटेनर में आग लगा दी। इससे पहले फायरिंग करके दहशत फैलाया।

बताया जा रहा है कि नक्सली बोतल में पेट्रोल भरकर लाये थे। उन्होंने कंटेनर पर पेट्रोल छिड़का और आग लगा दी। साथ ही कंटेनर के अगले टायर में गोली मार दी। घटना की सूचना मिलने के बाद खलारी डीएसपी आरएन चौधरी, इंस्पेक्टर विजय सिंह और मैक्लुस्कीगंज के थाना प्रभारी गोविंद कुमार घटनास्थल पर पहुंचे। सीसीएल से रेस्क्यू टीम को बुलाया गया। तब तक कंटेनर पूरी तरह से जल गया था। साथ ही उसके अंदर रखा एचडीडी मशीन, डीजी ट्रैकर सहित अन्य सामान जलकर राख हो गये। लगभग एक करोड़ रुपये के नुकसान का अनुमान है।

बताया गया कि ऑपरेटर अखिलेश ठाकुर, मजदूर गुड्डू भुईयां, धर्मेंद्र भुईयां, गोलु भुईयां, सुखल भुईयां और रवि भुईयां (सभी छल्लीदोहर के रहने वाले) और बांकेबाजार निवासी गुड्डू भुईयां साइट पर काम कर रहे थे। इस बीच नक्सली आ धमके। सभी मजदूर नक्सलियों को देखकर वे वहां से भाग गए। ठेकेदार के कर्मचारियों ने बताया कि घटना के बाद बुधवार सुबह जब घटनास्थल पर पहुंचे तो सबसे पहले मजदूरों को ढूंढा गया। सभी पांच मजदूर सुरक्षित मिले लेकिन एक मजदूर लापता था। खोजबीन के दौरान मजदूर संजय भुईयां (25) का जला हुआ शव कंटेनर के अंदर मिला। तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दी गयी।

Ranchi McCluskieganj Naxal Incident