Breaking :
||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज||पलामू: संदिग्ध हालत में स्कूल में फंदे से लटका मिला प्रधानाध्यापक का शव, हत्या की आशंका||लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम||मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने आलमगीर आलम से लिए सभी विभाग वापस||पलामू: कोयला से भरा ट्रक और बीड़ी पत्ता लदा ऑटो जब्त, पांच गिरफ्तार, दो लातेहार के निवासी||लातेहार: नहाने के दौरान तालाब में डूबने से दस वर्षीय बच्चे की मौत, शव की तलाश में जुटे ग्रामीण
Thursday, June 13, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

मैकलुस्कीगंज में नक्सलियों ने की फायरिंग, दो मजदूरों को लगी गोली, रिम्स रेफर

रांची : रांची व लातेहार जिले की सीमा पर स्थित मैक्लुस्कीगंज में नक्सली फायरिंग में दो मजदूर घायल हो गये हैं। दोनों मजदूरों के पैर में गोली लगी है। घायलों को बेहतर इलाज के लिए तुरंत रिम्स रेफर कर दिया गया है। वहीं, पुलिस मामले की जांच में जुट गयी है। फायरिंग के बाद नक्सलियों ने घटनास्थल पर पर्चा छोड़ कर पुलिस मुखबिरी बंद करने की चेतावनी दी है।

बताया जाता है कि बुधवार की देर रात नक्सलियों ने राजन साहू के ईंट भट्ठे पर धावा बोल दिया और मैक्लुस्कीगंज थाना क्षेत्र के जोभिया में फायरिंग कर दी। लातेहार जिले के जंगल की तरफ से सात-आठ की संख्या में आये नक्सलियों का नेतृत्व एक वर्दीधारी व्यक्ति कर रहा था। ईंट भट्ठे में आते ही नक्सलियों ने काम कर रहे मजदूरों से भट्ठा संचालक राजन साहू का मोबाइल नंबर मांगा। मजदूर जब तक कुछ समझ पाते नक्सलियों ने फायरिंग कर दी। फायरिंग में मांडर निवासी राजकुमार (40) व लातेहार निवासी सोमरा उरांव (25) घायल हो गये।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

दोनों मजदूरों के पैर में गोली लगी है। घटना को अंजाम देने के बाद नक्सलियों ने ठेकेदार, ईंट भट्ठा संचालक, कोयला व्यवसायी को धमकाते हुए और पुलिस मुखबिर को बंद करने की चेतावनी देते हुए एक पर्चा छोड़ दिया। यह पर्चा माओवादी की कोयल शंख जोनल कमिटी के नाम से जारी किया गया है। घटना को अंजाम देने के बाद नक्सली लातेहार जंगल की तरफ चले गये।

घटना की सूचना मिलते ही खलारी डीएसपी अनिमेष नैथानी व मैक्लुस्कीगंज थाना प्रभारी राणा जंग बहादुर सिंह मौके पर पहुंचे और घायल मजदूरों को तत्काल इलाज के लिए रिम्स भिजवाया। नक्सलियों द्वारा छोड़े गये पर्चे को जब्त कर संभावित स्थानों पर छापेमारी शुरू कर दी गयी है।

मैक्लुस्कीगंज सहित खलारी, डकरा, पिपरवार एक औद्योगिक क्षेत्र है, जहां कई आपराधिक गुट और उग्रवादी संगठन सक्रिय हैं। समय-समय पर लेवी वसूलने के चक्कर में ये वारदातों को अंजाम देते रहते हैं। अब नक्सलियों की मौजूदगी ने स्थानीय और जिला पुलिस को चुनौती दी है। इस संबंध में मैक्लुस्कीगंज थाना प्रभारी राणा जंग बहादुर सिंह ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा है कि उन्हें पर्चा मिला है। नक्सलियों की धरपकड़ को लेकर छापामारी अभियान चलाया जा रहा है।

Jharkhand Naxal News