Breaking :
||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी||गढ़वा: पड़ोसी युवक के साथ भागी दो बच्चों की मां, बंधक बनाकर पीटा||भूख हड़ताल पर बैठे पारा मेडिकल कर्मियों की तबीयत बिगड़ी, भेजा अस्पताल||Good News: झारखंड में मरीजों के लिए जल्द शुरू होगी एयर एंबुलेंस की सुविधा, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान||लातेहार: मनिका बालक मध्य विद्यालय में हुई चोरी मामले का खुलासा, तीन गिरफ्तार, चोरी का सामान बरामद||चतरा में सुरक्षाबलों से नक्सलियों की मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, देखें तस्वीर||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

हमसे दोस्ती करो, नहीं तो उठा लेंगे, मुस्लिम युवकों ने स्कूल में हथियार लहराकर छात्राओं को धमकाया

रांची : जिले के ओरमांझी में स्थित प्रोजेक्ट प्लस 2 उच्च विद्यालय में आसपास के कुछ मुस्लिम युवक हिंदू लड़कियों को धमकी देकर उनपर दोस्ती करने का दबाव डाल रहे हैं। हथियार लहराते हुए स्कूल में घुसे मनचले युवकों ने नौवीं कक्षा के छात्राओं को धमकी दी है कि दोस्ती करो, नहीं तो उठा लेंगे। स्कूल के शिक्षकों व कुछ छात्रों ने इसका विरोध किया तो उन्हें भी अंजाम भुगतने की धमकी दी।

छात्राओं के अनुसार इस तरह की धमकी एक सप्ताह से आदिवासी और अन्य हिंदू लड़कियों को लगातार दी जा रही हैं। डरी-सहमी छात्राओं ने अभिभावकों को घटना की जानकारी दी है। मामले को लेकर शनिवार को स्कूल परिसर में बैठक हुई। पूरे मामले की जानकारी ओरमांझी थाना पुलिस को दे दी गई है। घटना को लेकर क्षेत्र के लोगों में आक्रोश है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

आक्रोशित ग्रामीणों ने मायापुर चंदरा निवासी सभी आरोपित फिरदौस अंसारी, सुहैल अंसारी, मुजम्मिल अंसारी, तौफिक अंसारी, जमील अंसारी के खिलाफ ओरमांझी थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई है।

बैठक में क्षेत्र के जनप्रतिनिधि, समाजसेवी, आदिवासी 22 पड़हा के पदाधिकारी, विद्यालय के शिक्षक, प्रबंध समिति के साथ काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे। बैठक में स्कूल के छात्रों से घटना की पूरी जानकारी ली गई। बैठक से पूर्व कुछ जनप्रतिनिधियों ने भी कुछ छात्रा के घर जाकर उससे पूछताछ की और सच्चाई की पुष्टि की। कुछ आरोपितों के अभिभावक भी बैठक में पहुंचे थे।

ग्रामीण बैठक में ही आरोपित युवकों को बुलाने व मौके पर ही फैसला करने की मांग कर रहे थे। सूचना मिलने पर ओरमांझी थाना की पुलिस भी पहुंची। ग्रामीणों ने आरोपितों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए पुलिस को आवेदन दिया है। थाना प्रभारी राजीव कुमार ङ्क्षसह ने कहा कि सभी पर मामला दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

बैठक में स्कूल के छात्रों ने बताया कि मायापुर के कुछ युवक कुटे, कोकदोरा, चकला व चंदवे के युवकों को बुला कर स्कूल व आसपास अड्डाबाजी कराते हैं। वह नशे का सेवन करते हैं और स्कूली छात्राओं पर फब्तियां कसते हैं। इनका मन इतना बढ़ गया है कि स्कूल की दीवार फांदकर अंदर आ जाते हैं और छात्राओं के साथ छेड़छाड़ भी करते हैं। विरोध करने पर छात्रों व शिक्षकों को भी धमकी दी जाती हैं। इसकी जानकरी स्कूल प्रबंधन समिति को भी है। उनमें से कुछ छात्र उसी स्कूल में पढ़ते हैं, जिन्हें फिलहाल स्कूल से निष्कासित किया गया है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

शिक्षक दिवस के दिन पांच सितंबर को विवाद तब बढ़ा जब स्कूल में लगे जेनरेटर को आरोपितों ने उलट दिया। फिर स्कूल के शिक्षक व छात्रों के सामने हथियार लहराते हुए कुछ छात्रों के साथ मारपीट भी की। हथियार लहराने व छात्रा को उठा लेने की धमकी देने की जानकारी स्थानीय लोगों को हुई तो वह भड़क गए।

इधर, मामले में रांची ग्रामीण एसपी नौशाद आलम अंसारी ने ANI से बात करते हुए कहा कि हमने FIR दर्ज़ कर लिया है और जांच DSP को सौंपी है। समस्त बिंदुओं पर हमने जांच शुरू कर दी है। जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ सख़्त से सख़्त कार्रवाई होगी।