Breaking :
||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता का इंडी गठबंधन पर हमला, कहा- कोड वर्ड के जरिये बेच दिया झारखंड को||टेंडर कमीशन देने में पांकी के ठेकेदार का भी नाम : शशिभूषण मेहता||टेंडर घोटाले की जांच में पूर्व मंत्री आलमगीर आलम नहीं कर रहे सहयोग : ED||पांचवें चरण में 63.21 फीसदी वोटिंग, पुरुषों से ज्यादा रही महिलाओं की भागीदारी||गढ़वा: शादी समारोह में शामिल होने जा रही मां-बेटी की सड़क हादसे में मौत, बेटा और बेटी की हालत नाजुक||झारखंड: स्कूलों में शत प्रतिशत नामांकन को लेकर राज्य शिक्षा परियोजना गंभीर, लापरवाही बरतने पर होगी कार्रवाई||टेंडर कमीशन घोटाला मामला: ED ने अब IAS मनीष रंजन को पूछताछ के लिए बुलाया||मतदान केंद्र में फोटो या वीडियो लेना अपराध, की जा रही है कार्रवाई : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी||लातेहार: बालूमाथ में बाइक दुर्घटना में एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर, रिम्स रेफर||गढवा: डोभा में नहाने के दौरान डूबने से JJM नेता के पोते समेत दो किशोरों की मौत
Wednesday, May 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

कांग्रेस की मोहब्बत की दुकान से मिला नोटों का पहाड़ : बाबूलाल मरांडी

रांची : राज्य सरकार के मंत्री आलमगीर आलम के निजी सचिव के नौकर के यहां से ईडी ने सोमवार को लगभग 40 करोड़ रुपये बरामद किये हैं। इस पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने सोशल मीडिया एक्स पर लिखा है कि दो दिन पहले प्रधानमंत्री झामुमो-कांग्रेस के जिस लूट मॉडल की बात कर रहे थे, उसे इस रुपये ने सत्यापित कर दिया है। साथ ही कहा कि झारखंड में फिर से एक बार कांग्रेस की मोहब्बत की दुकान से नोटों का पहाड़ मिला है।

मरांडी ने कहा कि कांग्रेस के मंत्री के करीबियों के घर से बड़ी मात्रा में भ्रष्टाचार का धन छापेमारी में पकड़ा गया है। ईडी और सीबीआई के दुरुपयोग की दुहाई देने वाली झामुमो-कांग्रेस जनता के सामने अब कौन सा नया बहाना बनाएंगी? धीरज साहू से लेकर आलमगीर आलम और पंकज मिश्रा से लेकर पूजा सिंघल तक के ठिकानों से जिस प्रकार अथाह काले धन बरामद हुए हैं, उससे पिछले पांच सालों के दौरान राज्य सरकार द्वारा की गयी संगठित लूट जगजाहिर हो चुकी है।

बाबूलाल के मुताबिक, लगता है कि कल्पना सोरेन अब घड़ियाली आंसू बहाना बंद करेंगी। यह कहना भी बंद कर देंगी कि हेमंत सोरेन का अपराध क्या है। इन सभी पैसों का दुरुपयोग कर आम चुनाव को प्रभावित करने की प्रबल संभावना है। केंद्रीय निर्वाचन आयोग अविलंब सभी राज्यों के महाभ्रष्ट मंत्रियों के ठिकानों पर छापेमारी कर चुनाव में काले धन का दुरुपयोग रोके और कठोर कार्रवाई करे।

मोहब्बत की दुकान से मिला नोटों का पहाड़