Breaking :
||झारखंड में पांचवें चरण का चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न, आचार संहिता उल्लंघन के सात मामले दर्ज||लातेहार में शांतिपूर्ण माहौल में मतदान संपन्न, 65.24 फीसदी वोटिंग||झारखंड में गर्मी से मिलेगी राहत, गरज के साथ बारिश के आसार, येलो अलर्ट जारी||चतरा, हजारीबाग और कोडरमा संसदीय क्षेत्र में मतदान कल, 58,34,618 मतदाता करेंगे 54 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला||चतरा लोकसभा: भाजपा और कांग्रेस के बीच सीधी टक्कर, फैसला जनता के हाथ||भाजपा की मोटरसाइकिल रैली पर पथराव, कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट, कई घायल||झारखंड की तीन लोकसभा सीटों पर चुनाव प्रचार थमा, 20 मई को वोटिंग||पिता के हत्यारे बेटे की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त बंदूक बरामद समेत पलामू की तीन ख़बरें||चतरा लोकसभा क्षेत्र के नक्सल प्रभावित इलाके में नौ बूथों का स्थान बदला, जानिये||झारखंड हाई कोर्ट में 20 मई से ग्रीष्मकालीन अवकाश
Tuesday, May 21, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

अपडेट: नौकर के घर से अब तक मिले 40 करोड़ से ज्यादा कैश, नोट गिनते-गिनते मशीन खराब

रांची में नौकर के घर से मिले 40 करोड़ कैश

रांची : प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम सोमवार को राज्य की राजधानी रांची के अलग-अलग इलाकों में छापेमारी कर रही है। छापेमारी में राज्य सरकार के मंत्री आलमगीर आलम के निजी सचिव संजीव लाल के नौकर जहांगीर आलम के यहां से अब तक 40 करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम बरामद हुई है। अभी नोटों की गिनती चल रही है। बैंकों के अधिकारी बरामद रुपये की गिनती कर रहे हैं। इस कार्य में कई मशीनें लगी हैं। कुल 12 बक्सों में नोटों के बंडल को अरगोड़ा स्थित पंजाब नेशनल बैंक के चेस्ट में ले जाया गया है। इसके अलावा जहांगीर के ठिकाने पर एक कैश वैन भी लायी गयी है।

रांची नौकर के घर से मिले 40 करोड़ कैश

बताया जा रहा है कि नोट गिनने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली कुछ मशीनें भी खराब हो गयी हैं। नोट मिलने के बाद ईडी के अधिकारी जहांगीर से पूछताछ कर रहे हैं। आखिर यह पैसा किसका है, इसका स्रोत क्या है, लेकिन उसके पास कोई जवाब नहीं है।

इस मामले में छापेमारी खत्म होने के बाद ईडी जहांगीर को गिरफ्तार कर सकती है, जिसके बाद बरामद दस्तावेजों, मोबाइल फोन और नकदी के बारे में जानकारी जुटाने की कोशिश करेगी। इसके अलावा जहांगीर के मोबाइल फोन का डेटा रिकवर करने के लिए उसकी फॉरेंसिक जांच भी की जायेगी।

इसके अलावा ईडी की छापेमारी में पीपी कंपाउंड स्थित तेजस्विनी अपार्टमेंट में बिल्डर मुन्ना सिंह के फ्लैट से पांच करोड़ रुपये बरामद हुए हैं। मुन्ना सिंह मंत्री आलमगीर आलम के निजी सचिव संजीव लाल के करीबी बताये जाते हैं। जानकारी के अनुसार जहांगीर आलम ने ईडी की पूछताछ में बताया है कि यह रुपये मंत्री के निजी सचिव संजीव लाल के हैं।

बताया जा रहा है कि ईडी की यह छापेमारी गिरफ्तार हुए इंजीनियर वीरेंद्र राम के मामले में हुई है। ईडी ने झारखंड ग्रामीण विकास विभाग के मुख्य अभियंता वीरेंद्र राम को फरवरी, 2023 में कुछ योजनाओं के क्रियान्वयन में कथित अनियमितताओं से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया था।

इधर, संजीव लाल के ठिकाने से 40 करोड़ रुपये बरामदगी मामले में पत्रकारों से बातचीत में मंत्री आलमगीर आलम ने कहा कि टीवी में आप लोग जो देख रहे हैं, हम भी वही देख रहे हैं। ईडी का निष्कर्ष आने के बाद ही कुछ कहा जायेगा। अभी कुछ टिप्पणी करना उचित नहीं है। उन्होंने कहा कि संजीव उनका विभागीय पीएस है और वो सरकारी मुलाजिम है। हमलोग जो पीएस को रखते हैं, उसका अनुभवी देखकर ही रखते हैं। इससे पहले संजीव दो-दो मंत्रियों का निजी सचिव रह चुका है।

मेन रोड के पीपी कंपाउंड स्थित तेजस्विनी अपार्टमेंट में बिल्डर मुन्ना सिंह के घर।

गाड़ीखाना चौक स्थित संजीव लाल के नौकर जहांगीर आलम के सैयद रेजीडेंसी स्थित घर।

दीनदयाल नगर स्थित आलमगीर आलम के पीएस संजीव लाल के घर।

सेल सिटी स्थित पथ निर्माण विभाग के इंजीनियर विकास कुमार के घर।

बाड़ेया रोड स्थित चिरौंदी में इंजीनियर कुलदीप मिंज के घर।

आलमगीर आलम के पीएस संजीव लाल के कांके रोड स्थित घर।

रांची नौकर के घर से मिले 40 करोड़ कैश