Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर||चतरा: अत्याधुनिक हथियार के साथ TSPC के तीन उग्रवादी गिरफ्तार||लातेहार में बड़ा रेल हादसा, चार यात्रियों की मौत और कई के घायल होने की सूचना||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज
Saturday, June 15, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

मनरेगा आयुक्त ने सरकारी विद्यालयों में चहारदीवारी का निर्माण शीघ्र पूर्ण करने के दिये निर्देश

रांची : राज्य के सरकारी विद्यालयों में चहारदीवारी का निर्माण कार्य जल्द से जल्द पूरा करें। अगर जरूरत पड़ती है तो इसे लिए एक मानक प्राक्कलन भी तैयार करें। मनरेगा आयुक्त राजेश्वरी बी ने गुरुवार को स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग से अभिसरण की संभावनाओं पर चर्चा के लिए आहूत बैठक में निर्देश दिया।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

उन्होंने कहा कि वर्तमान में चल रही योजनाओं के गुणवत्तापूर्ण क्रियान्वन में कोई कमी नहीं होनी चाहिए। मनरेगा मद से श्रम घटक की राशि का प्रावधानानुसार उपयोग किया जाए। सरकार द्वारा राज्य में आदर्श विद्यालय योजना के अन्तर्गत 4,496 विद्यालयों को आदर्श विद्यालय के रूप में विकसित किया जा रहा है, जिसके तहत स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग द्वारा राज्य में केन्द्रीय विद्यालयों की तर्ज पर संचालित 89 मॉडल विद्यालयों में से 18 मॉडल विद्यालयों का चयन चहारदीवारी के निर्माण के लिए किया गया है।

राजेश्वरी बी ने जानकारी दी कि प्रारंभ में 18 मॉडल विद्यालयों में चहारदीवारी के निर्माण मनरेगा के साथ अभिसरण के माध्यम से किया जायेगा। मॉडल विद्यालयों के निर्माण के लिए मनरेगा मद से श्रम घटक की राशि दी जायेगी।

बैठक में उन्होंने कहा कि प्रत्येक कार्य स्थल पर अभिसरण के माध्यम से क्रियान्वित की जाने वाली योजनाओं के सापेक्ष मजदूरी एवं सामग्री मद की राशि, मनरेगा मद से श्रम घटक के लिए उपलब्ध करायी गई राशि तथा न्यूनतम मजदूरी दर से संबंधित एक बोर्ड लगाना अनिवार्य होगा।

झारखंड सरकारी विद्यालय चहारदीवारी