Breaking :
||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स||27 फरवरी से 24 मार्च तक झारखंड विधानसभा का बजट सत्र, राज्यपाल की मिली स्वीकृति||लातेहार: ऑपरेशन OCTOPUS के दौरान सुरक्षाबलों को मिली एक और बड़ी सफलता, अत्याधुनिक हथियार समेत भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता की गला रेत कर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

सतबरवा में उग्रवादी संगठन TPC ने की पोस्टरबाजी, बिचौलिये, ठेकेदार व जमीन माफिया को चेताया

पलामू : उग्रवादी संगठन तृतीय प्रस्तुति कमेटी (TPC) ने सतबरवा थाना क्षेत्र के तुम्बागड़ा नवजीवन अस्पताल के पास पोस्टर लगाए हैं। उग्रवादी संगठन द्वारा पोस्टर लगाए जाने के बाद ग्रामीणों में दहशत का माहौल है।

जानकारी के मुताबिक एक घर की दीवार के दायीं तरफ पोस्टर लगाए गए हैं। पोस्टर को टीपीसी की कोयल शंख सब जोनल कमेटी ने जारी किया है।

पलामू की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

पोस्टर में कहा गया है कि सभी बिचौलिये, ठेकेदार, भू-माफिया होश में आ जाएं। शोषित, पीड़ित, भूमिहीन और मजदूरों का शोषण बंद करने जैसी कई चेतावनियां दी गई हैं। कहा गया है कि पानी, जंगल, जमीन की लूट बंद करो और आदिवासियों और मूल निवासियों का हक दिलाओ। अधिकारों के लिए लड़ने और खनिज सम्पदा को किफायती मूल्य पर निकाल कर लूटने के मामले को समाप्त करने की बात कही गयी है।

ग्रामीणों का कहना है कि लंबे समय से उग्रवादी गतिविधियां बंद थीं। लेकिन एक बार फिर टीपीसी उग्रवादी संगठन द्वारा पोस्टरबाजी बेहद चिंताजनक है, जिससे इलाके का माहौल फिर से खराब हो सकता है।

पलामू प्रमंडल की ताज़ा ख़बरें यहाँ पढ़ें

इधर, सूचना के बाद पहुंची सतबरवा पुलिस ने पोस्टर जब्त कर लिया है। इस मामले में सतबरवा पुलिस ने कहा कि मामले में जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।