Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

लातेहार: बूढ़ा पहाड़ इलाके में माओवादियों का बंकर ध्वस्त, अत्याधुनिक हथियार समेत भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद

लातेहार : जिला पुलिस व सीआरपीएफ कोबरा के जवानों के द्वारा चलाये जा रहे संयुक्त अभियान में सुरक्षाबलों को नक्सलियों के विरुद्ध लगातार सफलता मिल रही है। इसी क्रम में लातेहार पुलिस अधीक्षक अंजनी अंजन को मिली गुप्त सूचना पर सुरक्षाबलों ने भाकपा माओवादियों के द्वारा छुपा कर रखें गये भारी मात्रा में हथियार व गोला बारूद बरामद किए हैं।

नक्सलियों के मंसूबे नाकाम

लातेहार पुलिस लाइन में आयोजित प्रेस वार्ता में डीआईजी राजकुमार लकड़ा ने बताया कि जिला पुलिस अधीक्षक अंजनी इंजन को गुप्त सूचना मिली थी कि काफी संख्या में माओवादी बूढ़ा पहाड़ के आसपास के इलाकों में भ्रमणशील होने की योजना बना रहे हैं। उनका मुख्य उद्देश्य पूर्व से बंकरों में छिपाकर रखे गये आधुनिक हथियार, गोला बारूद और आईडी बम को प्राप्त कर उनका इस्तेमाल नये स्थापित तिसिया, नवाटोली एवं झालुडेडा पुलिस कैंप में तैनात सुरक्षा बलों के खिलाफ करना है।

“स्पेशल ऑपरेशन ऑक्टोपस 20” के दौरान मिली सफलता

उन्होंने बताया कि गुप्त सूचना के बाद एक संयुक्त अभियान “स्पेशल ऑपरेशन ऑक्टोपस 20” चलाया गया। इस ऑपरेशन में लातेहार जिला बल, कोबरा 203 ,एजी 08 ,सीआरपीएफ 218 को शामिल किया गया। यह ऑपरेशन बारेसाढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत बूढ़ा पहाड़, चट्टान पानी एवं जोक पानी पहाड़ी क्षेत्र में चलाया गया। हालांकि ये सभी इलाके माआवादियों के पुराने व सुरक्षित गढ़ माना जाता है। माओवादियों द्वारा इन सभी क्षेत्रों में भारी मात्रा में आईडी बम, प्रेशर आईडी बम, हैंड ग्रेनेड व गोला बारूद छुपाकर रखा गया है।

अत्याधुनिक हथियार समेत 200 IED बम बरामद

बूढ़ा पहाड़ में कदम कदम पर आईडी, प्रेशर आईडी बम लगे हुए हैं। ऐसे में सुरक्षाबलों ने अदम्य साहस एवं सूझबूझ दिखाते हुए न केवल पूरे एरिया को सेनीटाइज किया बल्कि सुरक्षित रूप से माओवादियों के बंकरों तक पहुंचे और पूर्व में पुलिस से लूटे गए 18 हथियार जिसमें अत्याधुनिक हथियार जैसे 303 एलएमजी, इंसास राइफल, एसएलआर राइफल शामिल है के साथ ही 200 से ज्यादा आईडी बम भी बरामद किये गये।

बूढ़ा पहाड़ छोड़कर भागे नक्सली

उन्होंने बताया कि पिछले डेढ़ महीनों से सफलतापूर्वक चलाए गये अभियान ऑक्टोपस के बाद बूढ़ा पहाड़ में सक्रिय सभी भाकपा माओवादी अपने तीन दशक पुराने गढ़ को छोड़कर भागने को विवश हो गये।

सुरक्षाबलों का बढ़ा मनोबल

इस संयुक्त अभियान की सफलता से जहां एक तरफ माओवादियों के हौसले पस्त हुए हैं। वहीं दूसरी ओर झारखंड पुलिस एवं कोबरा सीआरपीएफ के जवानों का मनोबल काफी बढ़ा है। पुलिस का यह संयुक्त अभियान बूढ़ा पहाड़ इलाके में लगातार जारी रहेगा।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

प्रेसवार्ता में डीआईजी सीआरपीएफ विनय नेगी, पुलिस अधीक्षक अंजनी अंजन, 203 कोबरा कमांडेंट राजीव कुमार, 218 सीआरपीएफ बटालियन कमांडेंट एमके खान, बाढेसाढ़ थाना प्रभारी जमील अंसारी, पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी अमित कुमार गुप्ता सहित कई लोग उपस्थित थे।

बरामद हथियार व गोला-बारूद

303 एलएमजी राइफल- 1 दो मैगजीन के साथ, एसएलआर राइफल- 01 एक मैगजीन के साथ, 556 एमएम इंसास राइफल- 1 दो मैगजीन के साथ, 09 कार्बाइन 1 दो मैगजीन के साथ, 303 राइफल 7 11 मैगजीन के साथ, 315 राइफल 09 , 303 की गोली 474 पीस, 315 की गोली 402 पीस, देसी ग्रेनेड 41 पीस, आईडी बम 213 पीस, देसी यूबीजीएल एक, 303 का बोल्ट 5 पीस, एसएलआर राइफल का पिस्टल रोड दो पीस, 22 की गोली 75 पीस, दूरबीन 1 पीस, जीपीएस 3 पीस, वॉकी टॉकी 1 पीस, एलमुनियम नाइट्रेट दो डब्बा, आर्म्स स्प्रिंग 20 पीस, कोडेक्स वायर 100 मीटर, इलेक्ट्रिक वायर एक सौ मीटर, लाल बैनर एक पीस, काला वर्दी दो सेट, सीलिंग तीन पीस व वर्मा रोड 6 पीस बरामद किया गया है।

संयुक्त अभियान में शामिल पदाधिकारी

इस ऑपरेशन में डिप्टी कमांडेंट जितेंद्र कुमार कोबरा 203, असिस्टेंट कमांडेंट हेमंत कुमार जसोदिया कोबरा 203, असिस्टेंट कमांडेंट आजाद अहमद हाजाम सीआरपीएफ बटालियन नवाटोली, पुलिस अवर निरीक्षक मनोज मुर्मू नवाटोली, पुलिस अवर निरीक्षक कैलाश बाड़ा नवाटोली पिकेट बारेसाढ़, पुलिस अवर निरीक्षक आनंद कुमार AG 08 झारखंड जगुआर मुख्य रूप से शामिल थे।