Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Monday, April 15, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: मनरेगा लोकपाल के औचक निरीक्षण में मिली कई अनियमिततायें, पंचायत दिवस पर बंद मिले सचिवालय

भेंडर की एक्सपायरी सीमेंट से कुएं में आयी दरार

पलामू : मनरेगा लोकपाल पलामू शंकर कुमार ने पंचायत दिवस के अवसर पर गुरुवार को जिला मुख्यालय से सटे चैनपुर प्रखंड क्षेत्र का दौरा किया। इस दौरान कई गड़बड़ियां सामने आयी। लोकपाल ने जांच के बाद दोषियों के उपर कार्रवाई करने की बात कही है।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

पंचायत दिवस रहने के कारण मनरेगा लोकपाल प्रखंड क्षेत्र के सेमरा, सलतुआ एवं करसो पंचायत का औचक निरीक्षण किया, किन्तु गुरुवार को पंचायत दिवस होने के बावजूद पंचायत भवन पूर्वाहन 11 बजे तक खुला नहीं पाया गया। ग्रामीणों से बात की गयी तो उन्होंने बताया कि पंचायत भवन कभी खुलता नहीं है। उन्हें अपना कोई भी कार्य करने के लिए मुखिया के घर जाना पड़ता है। मुखिया द्वारा घर बैठे योजनाओं की खानापूर्ति की जा रही है और बंदरबांट किया जा रहा है।

सलतुआ, करसो में जाने के बाद पंचायत भवन खोला गया। यहां कोई मुखिया नजर नहीं आये। महिला मुखिया की जगह उनके पति बैठे दिखे। किसी तरह का कोई अभिलेख, ग्रामसभा रजिस्टर एवं योजना से संबंधित जानकारी नहीं दी गयी। इस कारण जांच में काफी दिक्कत आयी। सतलुआ में पाया गया कि योजनाओं का लाभ योग्य लाभुक को नहीं दिया गया है। योजनाओं की जांच में त्रुटि एवं प्राक्कलन, गुणवता की कमी पायी गयी।

सलतुआ में जांच के क्रम में लाभुक सुरेन्द्र सिंह के द्वारा बताया गया कि भेंडर शरीफ अंसारी द्वारा 25 बोरी पुरानी एक्सपायरी सीमेंट दी गयी थी। जमा होने के कारण कारगर नहीं रही। उस सीमेंट को लगाकर किसी तरह काम पूरा किया गया, लेकिन कुएं में कुछ दिनों के बाद दरार पड़ गयी। कुआं खराब हो गया है। लोकपाल ने कहा कि मामले में कार्रवाई की जायेगी।

Palamu Latest news today