Breaking :
||भीषण गर्मी की चपेट में झारखंड, सूरज उगल रहा आग, विशेषज्ञों ने बताये बचाव के उपाय||लातेहार: मनिका स्थित कल्याण गुरुकुल में युवती की संदिग्ध मौत, जांच में जुटी पुलिस||रांची के रातू रोड इलाके से गुजर रहे हैं तो हो जायें सावधान! बाइक सवार बदमाशों की है आप पर नजर||गढ़वा में सैकड़ों चमगादड़ों की दर्दनाक मौत, भीषण गर्मी से मौत की आशंका||लातेहार: अमझरिया घाटी की खाई में गिरा ट्रक, चालक और खलासी की मौत||मैक्लुस्कीगंज में ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम में लगे कंटेनर में नक्सलियों ने लगायी आग, जिंदा जला मजदूर||फल खरीदने गया पति, प्रेमी के साथ भाग गयी पत्नी||पलामू में 47.5 डिग्री पहुंचा पारा, मई महीने का रिकॉर्ड टूटा, दशक का सर्वाधिक अधिकतम तापमान||DJ सैंडी मर्डर केस : हत्या और मारपीट का मामला दर्ज, बार संचालक व बाउंसर समेत 14 गिरफ्तार||झारखंड की चर्चा खूबसूरत पहाड़ों की वजह से नहीं बल्कि नोटों के पहाड़ की वजह से हो रही : मोदी
Thursday, May 30, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडललातेहारहेरहंज

लातेहार: हेरहंज पहुंचा आदमखोर तेंदुआ, दो जानवरों का किया शिकार, एक की मौत, एक घायल

हेरहंज में तेंदुआ

नितीश कुमार यादव/हेरहंज

लातेहार : जिले के हेरहंज प्रखंड में शनिवार की रात आदमखोर तेंदुए ने दो जानवरों पर हमला कर दिया। इस हमले में एक पशु की मौत हो गयी है, जबकि दूसरा बुरी तरह घायल हो गया है। घटना प्रखंड के तासू पंचायत के हुन्ड्रा गांव की है। हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि किस जंगली जानवर ने पशुओं पर हमला किया है। ग्रामीणों के मुताबिक़ वह तेंदुआ ही था। घटना के बाद से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है।

घायल बछिया

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

ग्रामीणों ने बताया कि रात में सभी पशुओं को घर के बगल में बांध कर रखा गया था। देर रात तेंदुए ने उनपर हमला कर दिया। इस दौरान तेंदुए ने एक जानवर को बुरी तरह से मार डाला। जबकि दूसरे को काटकर घायल कर दिया। जिसे मार डाला वह अर्जुन राम की बतायी जा रही है जबकि घायल बछिया संजय राम की है। जिस पशु को तेंदुए ने मार डाला वह दुधारू थी उसी रात उसने एक बछड़े को जन्म दिया था।

बताया गया कि जिस तरह से जानवर पर हमला किया गया है, वह कोई और जंगली जानवर नहीं बल्कि तेंदुआ रहा होगा। क्योंकि उसने सिर्फ जानवरों का मांस खाया है। यदि कोई लकड़बग्घा होता तो वह मांस ही नहीं हड्डियाँ भी खाता।

इसे भी पढ़ें :- JOB: नेतरहाट आवासीय विद्यालय में नॉन टीचिंग स्टाफ के 12 पदों पर भर्ती, 25 फरवरी तक कर सकते हैं आवेदन

घटना के बाद ग्रामीणों ने वनपाल अभय भगत को सूचना दी। वनपाल ने तुरंत वन समिति के लोगों को मौके पर भेजा। वन समिति के अध्यक्ष बालचंद साव ने मौके पर पशु चिकित्सक को बुलाकर घायल पशु का उपचार कराया।

सिर्फ हड्डियां व चमड़े को छोड़ा

हालांकि डॉक्टर ने बताया कि बछिया की हालत भी काफी गंभीर है, ऐसा लग रहा है कि वह भी बच नहीं पायेगी। इसे देखते हुए ग्रामीणों ने वनक्षेत्र पदाधिकारी राकेश कुमार से उचित मुआवजे की मांग की है। ग्रामीणों ने वन विभाग से सुरक्षा की भी गुहार लगायी है।

हेरहंज में तेंदुआ