Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से एक बाइक सवार की मौत, दो की हालत गंभीर||लातेहार: माओवादियों की बड़ी साजिश नाकाम, बरवाडीह के जंगल से आठ आईईडी बम बरामद||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी
Tuesday, April 16, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरमहुआडांड़लातेहार

रोड नहीं तो वोट नहीं के नारे के साथ ग्रामीणों ने महुआडांड़ में किया अनिश्चितकालीन चक्का जाम

Mahuadand Birsa Chowk

देवानंद/महुआडांड़

लातेहार : सड़क निर्माण की मांग को लेकर महुआडांड़ प्रखंड के ओरसापाठ गांव के सैकड़ों ग्रामीण महिला-पुरुष बच्चों को साथ लेकर इस कपकपाती ठंढ में सुबह साढ़े तीन बजे से महुआडांड़ स्थित बिरसा चौक पर अनिश्चितकालीन चक्का जाम कर दिया है। यह चक्का जाम ओरसा रोड निर्माण संघर्ष समिति के बैनर तले किया गया है। जिसका नेतृत्व समिति के अध्यक्ष सत्येंद्र यादव कर रहे हैं।

समिति के अध्यक्ष सत्येंद्र यादव ने बताया कि हामी मोड़ से ओरसापाठ की सड़क काफी जर्जर स्थिति में है। इस वजह से हम लोगो को आवागमन में काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इस जर्जर रोड में प्रखंड मुख्यालय से ओरसा आने में घंटो का समय लगता है। जबकि ओरसापाठ से महुआडाड प्रखण्ड मुख्यालय कि दूरी मात्र 20 किलोमीटर है।

उन्होंने बताया कि सड़क खराब होने के कारण दो पहिया वाहन व चार पहिया वाहनों का परिचालन लगभग नहीं के बराबर होता है। जिससे हम लोगो को साप्ताहिक बाजार व प्रखंड कार्यालय, अनुमंडल कार्यालय आने में काफी कठिनाई का सामना करना पड़ता है।

वनविभाग द्वारा पथ निर्माण में अड़ंगा डाला जाता है, वही विभाग के द्वारा मरमति कर मात्र खानापूर्ति की जाती है जो कि चलने लायक भी नहीं रहता।

चक्का जाम कर रहे ग्रामीण काफी आक्रोशित नजर आ रहे हैं और स्थानीय सांसद एवं विधायक के विरोध में नारे भी लगा रहे हैं। साथ ही ग्रामीण आगामी पंचायत चुनाव समेत सभी चुनावों के लिए रोड नहीं तो वोट नहीं के नारे लगा रहे हैं।

इस चक्का जाम से रांची-गुमला व महुआडांड़-डाल्टनगंज रूट पर चलने वाले वाहनों के पहिये थम गए हैं। सैकड़ों वाहन इस जाम में फंसे हुए हैं।

Mahuadand Birsa Chowk

https://thenewssense.in/category/latehar

https://www.facebook.com/newssenselatehar


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *