Breaking :
||लातेहार: लापरवाह वाहन चालक हो जायें सावधान! कल से पुलिस चलायेगी जिलेभर में सघन वाहन चेकिंग अभियान||झारखंड की नाबालिग लड़की के साथ अमानवीय व्यवहार करने वालों के खिलाफ मुख्यमंत्री ने दिये सख्त कार्रवाई के आदेश||लातेहार: बालूमाथ में ट्यूशन पढ़ाकर घर लौट रहे शिक्षक की सड़क दुर्घटना में मौत||हेमंत सरकार ने खिलाड़ियों के सर्वांगीण विकास को लेकर की जोहार खिलाड़ी स्पोर्ट्स इंटीग्रेटेड पोर्टल की शुरुआत, खिलाड़ियों की समस्याओं के निराकरण में होगा सहायक||रामगढ़, चतरा व लातेहार में कोयला कारोबारियों पर जानलेवा हमला करने वाले TSPC के चार उग्रवादी गिरफ्तार, एक लातेहार का||अब राज्य के सरकारी शिक्षकों को ‘लीव मैनेजमेंट मॉड्यूल’ के माध्यम से ही मिलेगी छुट्टी, अन्य माध्यमों से दिये गये आवेदन होंगे रद्द||लातेहार: बालूमाथ में हुई विवाहिता हत्याकांड का खुलासा, चार अभियुक्तों ने मिलकर की थी बेरहमी से हत्या||पलामू: शहर में बिना अनुमति के जुलूस निकालने पर होगी कार्रवाई, रात 10 बजे के बाद डीजे बजाने पर रोक||लातेहार: मवेशियों से लदा ट्रक दुर्घटनाग्रस्त, ग्रामीणों ने एक तस्कर को पकड़ कर किया पुलिस के हवाले, डाल्टनगंज से खरीद कर रांची के मांस कारोबारी को जा रहे थे पहुंचाने||प्रेमिका से वीडियो कॉल पर बात करते प्रेमी ने दे दी जान

झारखंड में फिर से नोट गिनने के लिए मशीनों का किया गया इस्तेमाल, इनकम टैक्स की छापेमारी में दो करोड़ बरामद

रांची : झारखंड कांग्रेस के दो विधायकों और उनके सहयोगियों समेत कुछ कारोबारियों के यहां छापेमारी कर आयकर विभाग ने 100 करोड़ रुपये से अधिक के बेनामी लेनदेन और निवेश का खुलासा किया है।

सीबीडीटी ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि चार नवंबर को झारखंड के रांची, गोड्डा, बेरमो, दुमका, जमशेदपुर, चाईबासा, बिहार के पटना, हरियाणा के गुरुग्राम, पश्चिम बंगाल के कोलकाता समेत 50 स्थानों पर छापेमारी की गयी। आयकर अधिकारियों ने छापेमारी के दौरान दो करोड़ रुपये की नकदी भी बरामद की, जिनकी गिनती मशीनों से की गयी।

आयकर ने कांग्रेस के दो विधायकों के ठिकानों पर छापेमारी की थी, जिनकी पहचान अधिकारियों ने कुमार जयमंगल उर्फ ​​अनूप सिंह और प्रदीप यादव के रूप में की थी। बेरमो सीट से विधायक जयमंगल ने रांची स्थित अपने आवास के बाहर मीडिया से बात करते हुए भी कार्रवाई की पुष्टि की और कहा कि वह जांच में सहयोग कर रहे हैं। जेवीएम से अलग होने के बाद प्रदीप यादव कांग्रेस में शामिल हो गए। कांग्रेस वर्तमान में झामुमो के साथ सत्तारूढ़ गठबंधन का हिस्सा है, जिसका नेतृत्व हेमंत सोरेन कर रहे हैं।

सीबीडीटी ने एक बयान में कहा कि लौह अयस्क खनन, लौह उत्पादन, कोयले के व्यापार, परिवहन और अनुबंध में शामिल कुछ व्यापारिक समूहों के खिलाफ यह कार्रवाई की गयी है। सीबीडीटी ने कहा कि जिनके परिसरों की तलाशी ली गयी, उनमें से दो राजनीतिक रूप से संबंधित और उनके सहयोगी हैं। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड आयकर विभाग के लिए नीति बनाने वाला निकाय है।

सीबीडीटी ने कहा कि दो करोड़ रुपये से अधिक नकद भी बरामद किया गया है और अब तक 100 करोड़ से अधिक बेनामी लेनदेन और निवेश का पता चला है। छापेमारी में बड़ी संख्या में दस्तावेज और डिजिटल साक्ष्य भी मिले हैं। सीबीडीटी ने कहा, ‘इन सबूतों के प्राथमिक विश्लेषण से पता चलता है कि इन समूहों ने कर चोरी के लिए कई तरह के रास्ते अपनाए हैं।

जयमंगल ने अगस्त में अपनी पार्टी के तीन विधायकों इरफान अंसारी, राजेश कच्छप और नमन बिक्सल कोंगाड़ी के खिलाफ पुलिस शिकायत दर्ज करायी थी, जिसमें आरोप लगाया गया था कि वे झारखंड में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार को गिराने की साजिश कर रहे हैं।

जुलाई में पश्चिम बंगाल में कांग्रेस के तीन विधायकों को नकदी के साथ गिरफ्तार किए जाने के बाद शिकायत दर्ज की गयी थी। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता राजीव रंजन ने छापे के दिन आरोप लगाया था कि कर विभाग की कार्रवाई गैर-भाजपा शासित राज्यों में सरकारों को अस्थिर करने के अभियान का हिस्सा है।