Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Sunday, April 14, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: फर्जी पुलिस इंस्पेक्टर बनकर करते थे लूटपाट, पुलिस ने हथियार समेत चार लुटेरों को पकड़ा

पलामू : पलामू पुलिस ने पिपराटाड़ थाने में कार्यरत पूर्व सब इंस्पेक्टर के नाम पर फर्जी पुलिसकर्मी बनकर पुलिस की वर्दी में लूटपाट करने वाले चार लुटेरों को गिरफ्तार किया गया है। इनके पास से दो तमंचा, दो गोली, लूटा गया मोबाइल फोन समेत अन्य सामान बरामद किया गया है।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

प्रेस वार्ता में एसपी चंदन कुमार सिन्हा ने गुरुवार को जानकारी देते हुए बताया कि 10 मई को पिपराटाड़ थाना क्षेत्र के केलहवा बराज के पास लूटपाट की घटना हुई थी। पीड़िता ने तुरंत इसकी सूचना पुलिस को नहीं दी। देर से सूचना मिलने के बाद भी पुलिस टीम गठित कर छापेमारी की गयी। डकैती की योजना बना रहे छह अपराधियों को अमानत नदी में घेर लिया गया था। छापेमारी के दौरान दो अपराधी मौके से फरार होने में सफल रहे और चार अपराधियों को पकड़ लिया गया।

गिरफ्तार आरोपियों में शमशाद अंसारी, अखिलेश भुइयां उर्फ लड्डू, मुख्तार अंसारी, नवीन उर्फ मित्रांजन सिंह शामिल हैं। शमशाद व अखिलेश (जोलहा बिगहा, पांकी), मुख्तार (बलमुआ, पांकी) व नवीन (भुइयां कुरहा, पांकी) के रहने वाले हैं। गिरफ्तार अपराधियों में शमशाद अंसारी पूर्व में हत्या का आरोपी रहा है। अपराधी अखिलेश भुइयां आठ माह पूर्व चोरी के कई मामलों में जेल जा चुका है।

एसपी ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से सूचना मिल रही थी कि पांकी और पिपराटाड़ के सुदूर ग्रामीण वन मार्ग में छिटपुट छिनतई की घटनाएं हो रही हैं। करीब एक सप्ताह पहले केलहवा बांध में लूटपाट की घटना हुई थी। इस संबंध में मामला दर्ज है। अपराधी पुलिस की वर्दी पहनकर आने-जाने वाले वाहन चालकों को रोकते थे और थाने का कर्मचारी बताकर जांच के बहाने उनकी संपत्ति लूट लेते थे। सुबह थाने आकर सामान लेने की बात करता था। गुप्त सूचना के आधार पर यह कार्रवाई की गयी।

एसपी ने बताया कि बदमाशों के पास से 12 बोर की दो देसी पिस्टल, 12 बोर की दो गोली, 11 मोबाइल फोन, 3 चितकबरा वर्दी, पांच सेल का एक टॉर्च, एक चिलम भी बरामद किया गया है।

छापामारी दल में पिपराटाड़ थाना प्रभारी हीरालाल साह, पुअनि नितिन कुमार पोद्दार व जवान शामिल थे। प्रेस वार्ता में एसपी के साथ आईपीएस सह मेदिनीनगर एसडीपीओ ऋषभ गर्ग, लेस्लीगंज एसडीपीओ आलोक टूटी, पांकी इंस्पेक्टर अरुण कुमार महता समेत अन्य कर्मी मौजूद रहे।